पत्रिका के ब्‍यूरोचीफ को संपादक ने किया सम्‍मानित

E-mail Print PDF

खरगोन पत्रिका के ब्यूरो चीफ सचिन त्रिवेदी को पत्रिका इंदौर के संपादक अरुण चौहान ने व्यक्तिगत रूप से पुरस्कृत किया। इस अवसर पर इंदौर संभाग के सभी जिलों के पत्रिका के ब्यूरो चीफ मौजूद थे। त्रिवेदी ने अपनी धारधार लेखनी के माध्यम से सांईप्रसाद ग्रुप ऑफ कंपनीज के एजेंटों व अधिकारियों द्वारा आम नागरिकों के साथ एफडी व आरडी करने के नाम पर की जा रही धोखाधड़ी का पर्दाफाश किया था।

जिसका परिणाम यह निकला कि कंपनी के अधिकारी अपना जिला कार्यालय बंद करके भाग खड़े हुए। प्रशासन को भी सतर्क होना पड़ा व सब डिविजनल मजिस्ट्रेट द्वारा की गई जांच में भी इस कंपनी के कारोबार को फर्जी पाया गया। लगातार किश्तों में पत्रिका में सचिन त्रिवेदी द्वारा जब खबरें प्रकाशित की जा रही थी, तब उन पर कंपनी के अधिकारियों ने बेहद दबाव डाला व प्रलोभन भी दिए। इन दबावों व प्रलोभनों के आगे झुके बगैर त्रिवेदी ने अपना अभियान जारी रखते हुए सच्‍चाई को सामने रखा।

इसके परिणामस्वरूप 17 मार्च को पत्रिका के इंदौर कार्यालय में ब्यूरो चीफ की बैठक में यूनिट हेड आरआर गोयल की उपस्थिति में पत्रिका इंदौर के स्थानीय संपादक अरुण चौहान ने त्रिवेदी को प्रशंसा-पत्र प्रदान किया व 500 रुपए का नगद पुरस्कार देकर अन्य ब्यूरो चीफ को त्रिवेदी से प्रेरणा लेने को कहा। सचिन त्रिवेदी की इस उपलब्धि ने यह सिद्ध कर दिया कि पत्रकार यदि ठान ले व ईमानदारी से अपने काम को अंजाम दे तो आम आदमी को बहुत बड़ी राहत देने के साथ ही सामाजिक जागरूकता में भी अपना बहुत बड़ा योगदान दे सकता है।

त्रिवेदी की इस उपलब्धि पर पत्रकारगण हेमेंद्र पगारे, अमित जायसवाल, अमित जोशी, दीपक डंडीर, संजय शर्मा, राजेंद्र गुप्ता, राजेंद्र जैन व प्रेस फोटोग्राफर रोहित भावसार ने बधाई देते हुए हर्ष व्यक्त किया है।

सम्‍मान


AddThis