स्टार न्यूज के रविकांत को युवालेखन क्षेत्र में ज्ञानपीठ

E-mail Print PDF
Ravikantयूपी स्टार न्यूज के वरिष्ठ संवाददाता और युवा कवि रविकांत को भारतीय ज्ञानपीठ ने पुरस्कार के लिये चुना है। अक्टूबर में दिल्ली में एक समारोह के दौरान उन्हें इससे नवाज़ा जायेगा। रविकांत को यह पुरस्कार उनकी कविता संग्रह यात्रा के लिये दिया गया है। इसमें 25000 रुपये एवं प्रशस्ति पत्र दिया जायेगा। रविकांत को यह पुरस्कार युवालेखन के क्षेत्र में दिया गया है।
भारतीय ज्ञानपीठ द्वारा हर वर्ष आयोजित होने वाली नवलेखन प्रतियोगिता के अर्न्तगत इस वर्ष कविता के क्षेत्र में रविकान्त और उमाशंकर चौधरी को एवं कहानी में विमल चन्द्र  पांडेय को पुरस्कृत किया गया है। भारतीय ज्ञानपीठ 28 अगस्त तक इन लेखकों की पहली पुस्तकें छापेगी और अक्टूबर में इन्हें सम्मानित किया जाएगा। यह पुरुस्कार 35 वर्ष से कम आयु के साहित्यकारों को उनकी पहली पाण्डुलिपि पर दिया जाता है।

कवि रविकान्त स्टार न्यूज चैनल के वरिष्ठ संवाददाता हैं। उनकी पत्रकारिता की शुरुआत वाराणसी से ही हुई है। पहले एनडीटीवी से जुड़े रहे। रविकान्त शास्त्रीनगर और फिर नदेसर में रहते हुए लंबे अर्से तक बनारस के पत्रकारिता जगत और साहित्यिक माहौल का हिस्सा रहे। उनका कहना है कि बनारस की सहज जीवन शैली की छाप उनके व्यक्तित्व और साहित्य पर भी गहराई से पड़ी है। जिसका लाभ उन्हें आजीवन मिलता रहेगा। रविकांत के काव्य संग्रह 'यात्रा' में 75 कविताएं हैं। इनमें एक लंबी कविता 'इन कविताओं का कवि एक सपने में मारा गया' काफी चर्चित रही है। डेढ़ दशक से लिख रहे रविकान्त की ताजी कविताएं तदभव, नया ज्ञानोदय में प्रकाशित हो रही हैं.

रविकान्त को इस उपलब्धि पर बधाई। आप भी उन्हें  This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it पर मुबारकबाद दे सकते हैं। 


AddThis