माणिकचंद्र वाजपेयी पत्रकारिता पुरस्कार रमाशंकर को

E-mail Print PDF

मध्य प्रदेश सरकार की ओर से मूल्य आधारित पत्रकारिता के लिए दिया जाने वाला 'माणिकचंद्र वाजपेयी राष्ट्रीय पत्रकारिता पुरस्कार' वरिष्ठ पत्रकार रमाशंकर अग्निहोत्री को दिया जाएगा। यह पुरस्कार 2008 के लिए उन्हें दिया जाएगा। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संध के पूर्व प्रमुख केसी सुदर्शन रविवार को भोपाल के रवींद्र भवन में आयोजित समारोह में अग्निहोत्री को पुरस्कार स्वरूप एक लाख रुपए का चेक और प्रशस्ति पत्र प्रदान करेंगे। इस पुरस्कार के लिए वरिष्ट पत्रकार ओमप्रकाश कुंद्रा (भोपाल), तरुण विजय (नई दिल्ली), शरद द्विवेदी (भोपाल) व श्रीधर पराड़कर की चयन समिति ने अग्निहोत्री को चुना है। दिवंगत माणिकचंद्र वाजपेयी की स्मृति में 2006 में स्थापित इस राष्ट्रीय पत्रकारिता पुरस्कार से सबसे पहले वरिष्ठ पत्रकार भगवतीधर वाजपेयी (जबलपुर) को और 2007 में वरिष्ठ पत्रकार ओमप्रकाश कुंद्रा को सम्मानित किया गया।

जनसंपर्क विभाग की ओर से 23 अगस्त को आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह की अध्यक्षता मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान करेंगे। जनसपंर्क मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा विशेष अतिथि होंगे। इस मौके पर भारत भवन में 22 अगस्त को ‘विश्व सभ्यताओं के अंतर संबंध’ विषयक गोष्ठी में श्रीधर पराड़कर, प्रोकुसुमलता केडिया व राम माधव विचार व्यक्त करेंगे। अध्यक्षता जनसपंर्क मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा व चर्चा समन्वय अंबरीश मिश्र करेंगे। इसके बाद इसी दिन अनुराधा शंकर शरण ‘वैश्विक आतंकवाद की चुनौतियां: भारत की भूमिका’ विषय पर चर्चा करेंगे। इस गोष्ठी की अध्यक्षता देवेंद्र स्वरूप और चर्चा समन्वय संजय द्विवेदी करेंगे। 23 अगस्त को ‘स्वाधीन भारत का बौद्धिक अतीत और भविष्य’ विषयक गोष्ठी में डा मधुकर श्याम चतुर्वेदी, प्रो रामेश्वर मिश्र ‘पंकज,’ अच्युतानंद मिश्र व शशिशेखर शर्मा का उदबोधन होगा। अध्यक्षता महेश चंद्र शर्मा और चर्चा समन्वय अनुपमा चौहान करेंगी। इसी दिन आखिरी गोष्ठी ‘भविष्य का भारत: मीडिया की भूमिका’ विषय पर होगी। इसे महेश जोशी, स्मृति ईरानी, तरुण विजय, प्रभात झा श्रवण गर्ग व प्रभु जोशी संबोधित करेंगे। इसके बाद पुरस्कार वितरण समारोह होगा।

तीसरे माणिकचंद्र राष्ट्रीय पत्रकारिता पुरस्कार के लिए चयनित रमाशंकर अग्निहोत्री दैनिक युगधर्म, नागपुर के सहसंपादक, सांध्य दैनिक ‘आकाशवाणी’ (दिल्ली), पांचजन्य (मध्य भारत संस्करण), मासिक ‘राष्ट्रधर्म’ (लखनऊ) व युगवार्ता फीचर सर्विस (नई दिल्ली) व ‘मीडिया वाच’ के संपादक ‘हिन्दुस्तान समाचार’ न्यूज एजंसी के प्रधान संपादक रहे हैं। 1926 में मप्र के होशंगाबाद जिले में जन्मे अग्निहोत्री इस समय कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता व जनसंचार विश्वविद्यालय, रायपुर (छत्तीसगढ़) में अध्ययन शोध पीठ के अध्यक्ष हैं। उनका काव्य संग्रह ‘सत्यम एकमेव’ भी प्रकाशित हो चुका है। उन्हें इंद्रप्रस्थ साहित्य भारती, राष्ट्रीय पत्रकारिता कल्याण न्यास और माधवराव सप्रे पत्र संग्रहालय व शोध संस्थान पुरस्कृत कर चुके हैं। साभार : जनसत्ता, दिल्ली


AddThis