डा. त्रिखा को 'गणेश शंकर विद्यार्थी पत्रकारिता सम्मान'

E-mail Print PDF

इस साल का गणेश शंकर विद्यार्थी पत्रकारिता सम्मान वरिष्ठ पत्रकार डा. नंदकिशोर त्रिखा को दिया जाएगा. माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता व संचार विश्वविद्यालय, भोपाल की ओर से स्थापित इस सम्मान के रूप में डा. त्रिखा को एक लाख रुपए की राशि के साथ एक प्रशस्ति पत्र दिया जाएगा. विश्वविद्यालय के कुलपति अच्युतानंद मिश्र ने इस राष्ट्रीय सम्मान के लिये गठित चयन समिति की सर्वसम्मति से की गई सिफारिश के आधार पर इसकी घोषणा की. चयन समिति में वरिष्ठ पत्रकार राधेश्याम शर्मा, राजेंद्र शर्मा, शशि शेखर के साथ लखनऊ विश्वविद्यालय में हिन्दी के विभागाध्यक्ष और पत्रकारिता संकाय शुरू करने वाले डा. सूर्यप्रसाद दीक्षित शामिल थे.

पत्रकारिता में उल्लेखनीय योगदान के लिए डा. त्रिखा को यह सम्मान 26 अक्टूबर को गणेश शंकर विद्यार्थी की जयंती पर यहां आयोजित एक समारोह में दिया जाएगा. डा. नंदकिशोर इस समय हिंदुस्तान समाचार (संवाद एजेंसी) की प्रबंध समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष, समाचार पत्र उद्योग के पत्रकार व गैर पत्रकार कर्मचारियों के लिए भारत सरकार की ओर से गठित वेतन मंडल के सदस्य हैं. वे इससे पहले नवभारत टाइम्स के लखनऊ संस्करण के संपादक और भारतीय प्रेस परिषद व केंद्रीय अधिस्वीकरण समिति के सदस्य रहे हैं.

उन्हें थॉमसन फांउडेशन की तरफ से स्कॉलरशिप भी दी जा चुकी है. उन्हें दिल्ली हिन्दी अकादमी के साहित्यकार सम्मान के साथ उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान के पत्रकारिता सम्मान से भी नवाजा जा चुका है. कई दशकों तक पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय डा. त्रिखा भोपाल स्थित माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता व संचार विश्वविद्यालय में पत्रकारिता संकाय के अध्यक्ष और नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्ट्स इंडिया के दो बार राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे हैं. सभार : जनसता


AddThis