प्रयाग शुक्ल, ज्ञानवती व राजेंद्र मोहन सम्मानित

E-mail Print PDF

भारतीय पत्रकारिता संस्थान की ओर से बरेली में कला समीक्षक प्रयाग शुक्ल को 'विष्णु प्रभाकर स्मृति साहित्य सम्मान' दिया गया. इसके अलावा साहित्यकार ज्ञानवती सक्सेना को 'शांति सिन्हा स्मृति साहित्य सम्मान' और पत्रकार राकेश कोहरवाल की स्मृति में शुरू किया गया सम्मान रंगकर्मी और साहित्यकार राजेंद्र मोहन शुक्ला को दिया गया. रोटरी भवन में भारतीय पत्रकारिता संस्थान के रजत जयंती समारोह पर साहित्यकारों और पत्रकारों को सम्मानित किया गया. इस अवसर पर वरिष्ठ पत्रकार जेबी सुमन को भी सम्मानित किया गया.

मुख्य अतिथि प्रयाग शुक्ल ने साहित्यकारों और पत्रकारों को यह सलाह दी कि वातावरण और परिस्थितियों पर विलाप करने के बजाए वे अपना फर्ज निभाएं. उन्होंने कहा कि आज भी अच्छे लिखने वाले लोगों की कमी नहीं है. उनको पाठक वर्ग मिल रहा है. सभा के अध्यक्ष डा. वीरेन डंगवाल और कथाकार सुधीर विद्यार्थी ने अखबारों के गिरते स्तर पर चिंता जताई. उन्होंने कहा कि अब ज्यादातर अखबार बिना संपादकों के चल रहे हैं. ऐसे में अखबारों से मूल्य आधारित पत्रकारिता की अपेक्षा रखना फिजूल है.


AddThis