महेंद्र चौधरी राष्ट्रीय फोटो पत्रकारिता पुरस्कार

E-mail Print PDF

mahendra chaudhariजबलपुर के मशहूर फोटोग्राफर स्वर्गीय महेंद्र चौधरी के नाम पर मध्य प्रदेश सरकार ने इस साल से राष्ट्रीय फोटो पत्रकारिता पुरस्कार  देने की घोषणा की। पहला पुरस्कार दैनिक भास्कर, भोपाल के फोटो पत्रकार सतीश टेवरे को दिया गया। पिछले दिनों भोपाल में आयोजित एक समारोह में सतीश टेवरे को 50 हजार रुपये का यह पुरस्कार प्रदान किया गया।

इस मौके पर मध्य प्रदेश सरकार के जनसंपर्क मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा और पर्यावरणविद व लेखक अनुपम मिश्र मौजूद थे।

वक्ताओं ने स्वर्गीय महेंद्र चौधरी के व्यक्तित्व और कृतित्व पर प्रकाश डाला। महेंद्र चौधरी के बारे में बताया कि उन्होंने कैमरे की निगाहों से जीवन को हर कोण से देखा। उसे कलम से लिपिबद्ध भी किया। उन्होंने फोटो पत्रकारों के सामने काम करने की एक विशिष्ट शैली पेश की। महेंद्र चौधरी का व्यक्तित्व सहज, सरल और सौम्य था। महेंद्र चौधरी ने जीवन में काफी संघर्ष किया। सीमित साधनों-संसाधनों के बावजूद अपना सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुत करने के लिए हर वक्त खुद से ही प्रतियोगिता की। महेंद्र चौधरी जबलपुर के प्रथम फोटो पत्रकार थे जिन्होंने फोटो पत्रकारिता की विधा को नई उंचाई प्रदान कीं। सही मायने में वे जबलपुर में प्रेस फोटोग्राफी के सूत्रधार थे। कई दशकों तक लगातार सक्रिय फोटो पत्रकारिता करने के बाद अस्वस्थ होने पर वे अन्य फोटोग्राफरों और युवाओं को मार्गदर्शन देते रहे। समारोह में स्वर्गीय महेंद्र चौधरी के पुत्र संजीव चौधरी और मीडिया जगत से जुड़े कई लोग शामिल थे।   

स्वर्गीय महेंद्र चौधरी के नाम पर जबलपुर में पिछले 12 वर्षों से नगर निगम और रोटरी क्लब के सहयोग से 'चित्रांजली' प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है। इसमें संस्कारधानी जबलपुर के छायाकार भाग लेते हैं। इस वर्ष यह प्रतियोगिता इसी अक्टूबर माह में आयोजित की जाएगी। 


AddThis