गीताश्री को भी रामनाथ गोयनका एवार्ड

E-mail Print PDF

गीताश्री: इस तरह, पति-पत्नी दोनों को गोयनका एवार्ड मिला : वरिष्ठ पत्रकार और बैग नेटवर्क के मैनेजिंग एडिटर अजीत अंजुम को गोयनका एवार्ड मिलने की खबर तो पहले ही भड़ास4मीडिया पर प्रकाशित किया जा चुका है लेकिन नई सूचना ये है कि उनकी पत्नी और जानी-मानी महिला पत्रकार गीताश्री को भी रामनाथ गोयनका एवार्ड के लिए चुना गया है. उनके पति अजीत अंजुम को पोलिटिकल रिपोर्टिंग कैटगरी में इस साल का रामनाथ गोयनका एवार्ड दिया गया है. सूत्रों के मुताबिक गीता को हिंदी जर्नलिस्ट कैटगरी प्रिंट के लिए यह एवार्ड दिया जा रहा है. इसी कैटगरी के इलेक्ट्रानिक सेक्शन में अभिसार शर्मा को एवार्ड दिया जा रहा है. बताया जा रहा है कि गीताश्री की ह्यूमन ट्रैफिकिंग की रिपोर्ट पर उन्हें रामनाथ गोयनका एवार्ड दिया जा रहा है. गीताश्री इन दिनों आउटलुक हिंदी में असिस्टेंट एडिटर के रूप में कार्यरत हैं.

गीताश्री को पहले भी ढेरों एवार्ड और फेलोशिप मिल चुके हैं. या यूं कहें कि उन्हें फेलोशिप और एवार्ड मिलते ही रहते हैं. ऐसा उनके लेखन, तेवर और जमीनी काम के कारण संभव हुआ है. आदिवासियों लड़कियों की ट्रैफिकिंग पर लगातार काम करने और तस्करों के गिरोह का पर्दाफाश करने वाली स्टोरी के लिए गीताश्री को बेस्ट इन्वेस्टिगेटिव फीचर कैटगरी में यूएनएफपीए-लाडली मीडिया अवार्ड भी दिया जा चुका है. गीताश्री की इसी रिपोर्ट पर उन्हें रामनाथ गोयनका एवार्ड देने की घोषणा की गई है.

18 वर्षों से मीडिया में सक्रिय गीताश्री प्रिंट, इलेक्ट्रानिक और वेब, तीनों माध्यमों में विविध पदों पर काम कर चुकी हैं. वे पहले हिंदी पोर्टल वेबदुनिया डाट काम के दिल्ली ब्यूरो की चीफ रह चुकी हैं. डीडी न्यूज पर आने वाले रोजाना के लिए प्रिंसिपल करेस्पांडेंट के रूप में गीताश्री ने काम किया. वे इसी पद पर अक्षर भारत में भी रहीं. स्वतंत्र भारत में सीनियर करेस्पांडेंट के रूप में दिल्ली ब्यूरो में वे चार वर्ष तक काम कर चुकी हैं. बेस्ट फिल्म रिपोर्टिंग के लिए मातृश्री अवार्ड पाने वाली गीताश्री महिलाओं के मुद्दों पर जुझारू लेखन के लिए न्यूजपेपर एसोसिएशन आफ इंडिया की तरफ से भी पुरस्कृत हुई हैं. राजस्थान के बंधुवा मजदूरों पर लेखन के लिए उन्हें बेस्ट ग्रासरूट फीचर एवार्ड मिला. गीताश्री का एक कविता संग्रह प्रकाशित हो चुका है, जिसका नाम है- 'कविता जितना हक'. कई किताबों की संपादक और लेखक गीताश्री सामाजिक सरोकार के मुद्दों पर सक्रिय रहती हैं और इस मकसद से देश-विदेश की यात्राएं भी करती रहती है.


AddThis