हिंदी दिवस पर कई लोगों को मिलेगा एवार्ड

E-mail Print PDF

हिंदी आज हर क्षेत्र में कामयाबी का परचम लहरा रही है. देश-विदेश में काफी ऐसे लोग हैं जो हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार और विकास के लिए प्रतिबद्ध हैं. कुछ ऐसे ही हिंदीसेवियों की उपलब्धियों को रेखांकित करने के लिए मालवा रंगमंच समिति, उज्जैन और कृतिका कम्युनिकेशन, मुंबई द्वारा हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी हिंदी सेवा सम्मान एवं अंतर्राष्ट्रीय परिसंवाद का आयोजन किया जा रहा है. संस्थाध्यक्ष केशव राय ने बताया कि इस आयोजन में दुनिया भर से प्रमुख साहित्यकार, संस्कृतिकर्मी  और हिन्दीसेवी भाग लेंगे. समारोह रविवार 12 सितम्बर 2010, को महाकालेश्वर की नगरी उज्जैन (म.प्र.) की कालिदास अकादमी में होगा.

दो सत्रों में आयोजित होने वाले इस समारोह के प्रमुख अतिथि हैं- माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता संस्थान के पूर्व निदेशक अच्युतानंद मिश्र, नवभारत टाइम्स मुंबई के पूर्व सम्पादक एवं नवनीत के वर्तमान सम्पादक विश्वनाथ सचदेव, महात्मा गाँधी अंतर्राष्ट्रीय हिंदी वि.वि.वर्धा के कुलपति  विभूतिनारायण राय, पाणिनी संस्कृत वि.वि. उज्जैन के कुलपति मोहन गुप्त और साहित्य आकदमी (भोपाल) के निदेशक पी.एन. शुक्ला. विशेष अतिथि के तौर पर वरिष्ठ कवि सत्यनारायण सत्तन (इंदौर), कवि-गीतकार देवमणि पाण्डेय (मुंबई), कवि-पत्रकार पवन करण, प्रो.पदमा सिंह (इंदौर) और पत्रकार परवेज़ अहमद (अध्यक्ष-प्रेस क्लब ऑफ इंडिया) उपस्थित रहेंगे.

प्रथम सत्र में सुबह 10 बजे ‘नए दौर में हिंदी के बदलते स्वरूप’ विषय पर अंतर्राष्ट्रीय परिसंवाद वरिष्ठ साहित्यकार ज्ञानरंजन, वरिष्ठ कवि बालकवि बैरागी, वरिष्ठ साहित्यकार अज़हर हाशमी, वरिष्ठ भाषा वैज्ञानिक प्रो. नंदलाल पाठक (मुम्बई),  डॉ.हरि मोहन बुधौलिया (उज्जैन) और वरिष्ठ साहित्यकार डॉ. प्रेम भारती के सानिध्य में सम्पन्न होगा. विविध साहित्यिक विधाओं से जुड़े देश-विदेश के प्रतिष्ठित साहित्यकारों और हिंदीसेवियों को हिंदी सेवा सम्मान से विभूषित किया जायेगा. इन विधाओं में शामिल हैं –गीत, ग़ज़ल, कविता, उपन्यास, कहानी, व्यंग्य, निबंध, आलोचना, नाटक, यात्रा-साहित्य,  संस्मरण, पत्रकारिता, वेब पत्रकारिता आदि. शाम 6 बजे द्वितीय सत्र में आयोजित कलासंध्या / काव्यसंध्या में इस आयोजन में उपस्थित प्रमुख कवि-शायर-गायक कलाकार शिरकत करेंगे. इस अवसर पर लोकप्रिय नृत्यांगना श्रीमती प्रतिभा रघुवंशी अपने ग्रुप के साथ नृत्यमय सरस्वती वंदना प्रस्तुत करेंगी.

इस समारोह में सम्मानित होने वाले रचनाकारों-पत्रकारों में प्रतिष्ठित कवयित्री डॉ.अंजना संधीर (यूएसए), वरिष्ठ लेखक गोविंद शर्मा (यूके), वरिष्ठ शायर डॉ.राहत इन्दौरी (इंदौर), ऐतिहासिक उपन्यासकार डॉ. शरद पगारे (इंदौर), कथाकार एच.आर.हरनोट (शिमला), कथाकार महुआ माजी (झारखंड), व्यंग्यकार ज्ञान चतुर्वेदी (भोपाल), निबंधकार नर्मदाप्रसाद उपाध्याय (भोपाल), गीतकार चंद्रसेन विराट (इंदौर), समालोचक डॉ.करूणा शंकर उपाध्याय, फ़िल्मफेयर अवार्ड से सम्मानित पार्श्वगायिका-सूफ़ी सिंगर कविता सेठ (मुंबई), फ़िल्म ‘थ्री ईडिएट’ के गीतकार स्वानंद किरकिरे (मुम्बई), महाभारत फेम उदघोषक हरीश भिमानी (मुंबई), प्रथम हिंदी पोर्टल वेब दुनिया के सम्पादक जयदीप कर्णिक, भड़ास4मीडिया के संस्थापक और सम्पादक यशवंत सिंह (दिल्ली), संजय कुमार (समाचार सम्पादक-आकाशवाणी पटना) और लोकप्रिय हिंदी दैनिक नई दुनिया की युवा पत्रकार गायित्री शर्मा आदि शामिल हैं. अन्य विधाओं में  उत्कृष्ट लेखन करने वाले साहित्यकारों का चयन उच्चस्तरीय समिति द्वारा किया जा रहा है. नामांकन के लिए संस्थाध्यक्ष केशव राय से This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it तथा This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it पर संपर्क किया जा सकता है.

इस अवसर पर 'आधुनिक संचार माध्यमों में हिंदी' विषय पर केंद्रित प्रदर्शनी शैलेन्द्र कुमार शर्मा के नेतृत्व में तथा डॉ. अनिल जूनवाल एवं श्याम निर्मल के संयोजन में लगाई जाएगी. उल्लेखनीय है कि गत वर्ष 2009 में हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में प्रसिद्ध पत्रकार डॉ.वेदप्रताप वैदिक (दिल्ली) को हिंदी सेवा सम्मान से सम्मानित किया गया था. समारोह में डॉ.अचला नागर (मुंबई) के सानिध्य में  मशहूर शायर निदा फाजली (मुंबई) और कवि श्री देवमणि पाण्डेय (मुंबई) ने काव्यपाठ किया था. मालवा रंगमंच समिति, उज्जैन के परामर्श मंडल में कथाकार तेजेंद्र शर्मा (यूके),  सुनीता खरे (सम्पादक ‘अक्षरा’ भोपाल), राजेंद्र जोशी (भोपाल), राजुलकर राज (भोपाल), आचार्य शैलेंद्र पराशर, अशोक मनवानी, सूरज उज्जैनी और प्रकाश बांठिया आदि शामिल हैं.


AddThis