गीताश्री को इनफोचेंज मीडिया फेलोशिप

E-mail Print PDF

गीताश्रीवरिष्ठ पत्रकार गीताश्री को इनफोचेंज मीडिया फेलोशिप, वर्ष 2008 के लिए चुना गया है। उनके अलावा पांच अन्य लोग भी इस फेलोशिप के लिए चुने गए हैं। ये हैं- अमीना खातून, जीवा जयदास, माइकल चावला, पराशर बरुआ और सोमित्र भट्टाचार्या। इस फेलोशिप के लिए सितंबर महीने में आवेदन मंगाए गए थे। कुल 60 लोगों ने अप्लाई किया। इस फेलोशिप के तहत गीताश्री छत्तीसगढ़ के आदिवासी इलाके बस्तर में नक्सलवादियों और सलवा जुड़ूम के बीच संघर्ष के कारणों की पड़ताल अपने शोध रिपोर्ट में करेंगी।

साथ ही आदिवासियों के दुखों और उनके पलायन के पीछे के वजह को जानने का प्रयास करेंगी। गीताश्री फिलहाल आउटलुक हिंदी में फीचर एडीटर के पद पर कार्यरत हैं। फेलोशिप के लिए चुनी गईं अमीना खातून कोलकाता में पली-बढ़ी हैं। वे हिंदी और उर्दू के अखबारों-पत्रिकाओं में विभिन्न मुद्दों पर स्वतंत्र पत्रकार की हैसियत से कलम चलाती हैं। साथ ही, शिक्षा और सामाजिक उत्थान जैसे मसलों पर ग्रासरूट लेवल पर काफी सक्रिय हैं। वे कोलकाता की बस्तियों में रहने वालों के नजरिए से कोलकाता शहर को देखने का प्रयास अपने शोध रिपोर्ट में करेंगी। वे महानगर में जीने वाले आम इंसान के सुख-दुख की पड़ताल करेंगी।

गीताश्री शोध रिपोर्ट हिंदी में लिखेंगी जबकि अमीना खातून उर्दू में।

इस फेलोशिप और फेलोशिप के लिए चयनित लोगों के बारे में विस्तार से जानने के लिए आप इनफोचेंज एनाउंसमेंट पर क्लिक कर सकते हैं।


AddThis