जयशंकर जयरामैया को प्रतिष्ठित जर्नलिज्म एवार्ड

E-mail Print PDF

: अरविंद मोहन हिंदी सलाहकार समिति के सदस्य बने : अंग्रेजी दैनिक फायनेंसियल एक्‍सप्रेस, बेंगलोर के प्रमुख संवाददाता जयशंकर जयरामैया को फेडरेशन ऑफ कर्नाटक चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्‍ट्रीज की ओर से वर्ष 2009-10 का प्रतिष्ठित जर्नलिज्‍म अवार्ड दिया गया है. जयरामैया को यह पुरस्‍कार विभिन्‍न सामाजिक-आर्थिक मुद्दों और खासकर बेंगलूर में बिजली के संकट पर छपी एक रिपोर्ट के लिए दिया गया है.  जयरामैया को पत्रकारिता में 14 से अधिक वर्षों का अनुभव है. वह पिछले पांच वर्षों से फायनेंसियल एक्‍सप्रेस से जुड़े हैं. राज्‍यपाल हंसराज भारद्वाज ने फेडरेशन की एक बैठक में जयरामैया को यह अवार्ड प्रदान किया. इस मौके पर राज्‍यसभा के उप सभापति के. रहमान खान और फेडरेशन के प्रेसिडेंट जे. क्रास्‍टा मौजूद थे. क्रास्‍टा ने कहा कि जयरामैया की खबरें राज्‍य में उद्योगों के लिए काफी मददगार साबित हुई हैं.

अमर उजाला के कार्यकारी संपादक अरविंद मोहन को गृह मंत्रालय की हिन्दी सलाहकार समिति का सदस्य बनाया गया है. इस समित का गठन हर तीन साल पर होता है. केन्द्रीय हिन्दी समिति का गठन 1967 में किया गया था और इसकी अध्यक्षता प्रधानमंत्री करते हैं. कमेटी के अध्यक्ष केन्द्रीय गृह मंत्री होते हैं और गृह राज्य मंत्री इसके पदेन उपाध्यक्ष होते हैं. केन्द्रीय हिन्दी समिति के निर्देश पर विभिन्न मंत्रालयों / डिपार्टमेंटों में संबंधित मंत्रियों की अध्यक्षता में हिन्दी सलाहकार समितियां गठित की जाती हैं. ये अपने-अपने मंत्रालयों / डिपार्टमेंटों में हिन्दी के उपयोग की समीक्षा करती हैं और हिन्दी के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए अपने सुझाव देती हैं.


AddThis