तहलका को आईपीआई इंडिया पुरस्‍कार

E-mail Print PDF

नई दिल्‍ली. पत्रकारिता के क्षेत्र में उत्‍कृष्‍ट कार्य के लिए साप्‍ताहिक समाचार पत्रिका 'तहलका' को वर्ष 2010 के आईपीआई- भारत पत्रकारिता पुस्‍कार से सम्‍मानित किया जायेगा. पुरस्‍कार स्‍वरूप दो लाख रुपये की राशि, ट्रॉफी और प्रशस्ति-पत्र दिया जायेगा. पुरस्‍कार के निर्णायक मंडल ने सुरक्षा बलों की ओर से 23 जुलाई, 2009 को मणिपुर में दिनदहाड़े एक युवक की क्रूरता के साथ जान लेने संबंधी टेरेसा रहमान की रिपोर्ट की विशेष रूप से सराहना की है. निर्णायक मंडल ने कहा कि मणिपुर में हुई इस घटना की रिपोर्ट का जनता पर काफी प्रभाव पड़ा.

इंटरनेशनल प्रेस इंस्‍टीट्यूट (आईपीआई) राष्‍ट्रों के बीच सही और संतुलित खबरों के आदान-प्रदान को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध संपादकों, प्रकाशकों, अखबारों, पत्रिकाओं और समाचार एजेंसियों के वरिष्‍ठ कार्यकारी अधिकारियों का सक्रिय मंच है. आईपीआई को प्राप्‍त प्रविष्ठियों में से टेरेसा रहमान की इस रिपोर्ट को पुरस्‍कार के लिए चुन लिया गया. भारत के पूर्व प्रधान न्‍यायाधीश एएस आनंद की अध्‍यक्षता वाले निर्णायक मंडल के अन्‍य सदस्‍यों में द हिन्‍दू के संपादक एन रवि, मलयाला मनोरमा के प्रबंध संपादक फिलिप मैथ्‍यू, पीटीआई के प्रधान संपादक एमके राजदान और बिजनेस स्‍टैण्‍डर्ड के संपादक टीएन निनान शामिल हैं. यह पुरस्‍कार यहां अगले महीने एक समारोह में दिया जायेगा.  साभार : जनसत्‍ता


AddThis