यूपी के पत्रकारों की मीडिया डायरेक्टरी प्रकाशित

E-mail Print PDF

यूपी सरकार के लिए पत्रकार अछूत हो गए हैं! तभी तो सरकार की ओर से हर साल प्रकाशित की जाने वाली डायरी में नाम, नंबर और पते की लिस्ट में से इस बार मान्यता प्राप्त पत्रकारों को चलता कर दिया गया है। सरकारी डायरी से पत्रकारों के बहिष्कृत होने से खफा पत्रकार संगठन ने अलग से डायरेक्टरी प्रकाशित करने का फैसला किया। इस डायरी में सिर्फ लखनऊ के ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश के पत्रकारों के नाम नंबर और पते हैं। यह काम किया यूपी के सबसे बड़े पत्रकार संगठन 'यूपी वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन' ने। देश का सबसे बड़ा प्रदेश होने के चलते यूपी में पत्रकारों की संख्या भी सबसे अधिक है। प्रदेश भर के सभी जिलों से पत्रकारों के नाम, फोन नंबर इकट्ठा करना मुश्किल काम था लेकिन इस मुश्किल को आसान बनाया यूनियन के अध्यक्ष हसीब ने।

हसीब ने जिलों-जिलों से पत्रकारों के नंबर जुटाए, राजनेताओं के नंबर लिए और प्रमुख अधिकरियों के नंबर जुटा कर उन्हें छापा।  इस चुनावी साल में यह डायरी बड़े काम की चीज हो गई है। इसमें यूपी के प्रेस जगत से जुड़े हर नंबर, हर जिले के राजनेताओं, मंत्रियों, सांसदों, विधायकों और अन्य महत्वपूर्ण लोगों के बारे में सभी प्रमुख जानकारियां मिलेंगी। डायरेक्टरी 160 पन्ने की है और इसका मूल्य रखा गया है 60 रुपए। इसे लखनऊ में यूपी प्रेस क्लब, दारुलशफा, यूनिवर्सल और कई जिलों से पाया जा सकता है। अपने खर्च पर मंगाने के लिए 0522-2616520 पर रिंग कर सकते हैं।


AddThis