जागरण, दिल्‍ली में जीजा-साले के मन-मुताबिक होगा सेलरी इंक्रीमेंट

E-mail Print PDF

दैनिक जागरण के दिल्‍ली-एनसीआर में अपने मनमाफिक परिवर्तन कराने के बाद जीजा-साले की जोड़ी फिर फार्म में आ गई है. सूचना है कि पुराने इंचार्जों द्वारा रिकमंड किए गए वेतन वृद्धि के फैसले को दरकिनार करके इस पर नए सिरे से निर्णय लिया जाएगा. इस पर कैंची चलाने की योजना है. सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार दिल्‍ली के तीनों कार्यालयों बाहरी दिल्‍ली, ईस्‍ट दिल्‍ली और वेस्‍ट दिल्‍ली के लोगों की सेलरी बढ़ोत्‍तरी लिस्‍ट आईटीओ भेज दी गई है.

अब यहां साले कविलाश इनके वेतन पर अपना निर्णय लेंगे. पहले सूचना थी कि दिल्‍ली में बारह प्रतिशत तक वेतन बढ़ोत्‍तरी होगी, पर ताजा सूचना है कि जीजा-साले की सदाबहार जोड़ी अब आठ प्रतिशत वेतन वृद्धि देने वाली है. हां, चहेतों को जरूर बारह प्रतिशत तक सेलरी इंक्रीमेंट किए जाने की चर्चा है. आपको बता दें कि तीनों कार्यालयों के पत्रकारों के अप्रेजल फार्म पर पुराने कार्यालय प्रभारियों ने अपनी संस्‍तुति दे दी थी. परन्‍तु उन लोगों का जीजा-साले से याराना नहीं होने के चलते इस मामले को फिर से देखा जा रहा है.

बाहरी दिल्‍ली के पुराने प्रभारी नवीन गौतम, ईस्‍ट दिल्‍ली के प्रभारी कुमार संजय तथा वेस्‍ट दिल्‍ली के प्रभारी संजीव गुप्‍ता ने अपने तबादले से पहले ही कर्मचारियों के बारे में अपनी रिपोर्ट दे दी थी. परन्‍तु इन लोगों को किनारे लगाने के बाद यह जोड़ी फिर से अप्रेजल को अपने तरीके से करने की कयावद रच डाली है. अब उन्‍हीं को बढि़या इंक्रीमेंट मिलने की संभावना बन गई है, जो जोड़ी के आगे-पीछे घूमते रहते हैं. चरण बंदना करते हैं.

वैसे चर्चा तो यह भी है कि इस जोड़ी ने ये सारे बदलाव तथा अपने चहेतों को दिल्‍ली में बैठाने की तैयारी सिर पर आ चुके निगम चुनावों को देखते हुए किया तथा करवाया है. ताकि चुनावों के दौरान ज्‍यादा से ज्‍यादा मलाई काटी जा सके. दूसरी तरफ जीजा-साले के सेलरी इंक्रीमेंट के पुनरीक्षण तथा कटौती की संभावनाओं को देखते हुए पत्रकार एवं कर्मचारी काफी गुस्‍से में हैं. अब गुस्‍से में वे क्‍या करेंगे वे ही जाने, पर जीजा-साले की तो चांदी ही चांदी है.


AddThis