गंगा का कटान रोकने में पत्रकार भी गटक गए लाखों

E-mail Print PDF

कांशीरामनगर में गंगा के तटीय क्षेत्र पचलाना के निकट गंगा के कटान को रोकने के लिए गंगा के किनारे स्टट बनाकर बालू की बोरी भरकर लगाए जाने का काम सिंचाई विभाग द्वारा किया जा रहा है। इसके लिये जिलाधिकारी सेल्वाकुमारी जे ने शासन से 1 करोड़ 75 लाख रुपये की धनराशि स्वीकृत कराई। सिंचाई विभाग के अधिकारी पूरे दिन में हजारों रुपये की चपत शासन की धनराशि को लगा रहे हैं।

यहां पर बच्चों से बोरियों के भरने के पैसे देकर कार्य कराया जा रहा है। जो सस्ते में कराया जा रहा है। इसके अलावा बच्चों से कार्य कराना नियम विरूद्ध है। यहां पर कार्य करते समय कई जनपद के कई पत्रकार भी पहुंच गये। सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने उन्हें भी लाखों रुपये देकर शांत कर दिया। यहां पर शासन की धनराशि को चपत लगाए जाने का घिनौना खेल अभी भी जारी है। पचलाना के ग्रामीणों का कहना है कि सिंचाई विभाग के अधिकारी सुबह 8 बजे से देर रात्रि तक यहां पर कार्य करवाते हुए देखे जा रहे हैं। इसकी भनक अभी तक जिला प्रशासन तक नहीं पहुंच पाई है। बताया जाता है कि गंगा में बोरी डालने पर डूब जाती है वह दिखाई नहीं देती इसका फायदा अधिकारी अधिक से अधिक उठा रहे है।


AddThis