आर्यन और मौर्य टीवी में वरिष्‍ठों को लेकर कयासों का दौर

E-mail Print PDF

पटना की मीडिया में अफवाहों और कयासों का दौर तेजी से हावी है. दो चैनलों को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं उड़ रही हैं. हालांकि आधिकारिक रूप से इन बातों को नकारा जा चुका है, पर माना जा रहा है कि कहीं आग है तभी इस तरह का धुंआ उड़ रहा है. पहली चर्चा आर्यन टीवी से है. यहां कंसल्टिंग एडिटर के रूप में आए राकेश शुक्‍ला को लेकर कयासों का दौर जारी है. फिलहाल वो पटना से बाहर हैं. इसलिए उनके जाने की चर्चाएं की जा रही हैं.

कहा यह भी जा रहा है कि वो आर्यन टीवी के ब्‍यूरो आफिसों को चुस्‍त दुरुस्‍त करने में जुटे हुए हैं, इसलिए पटना से बाहर हैं. पर कार्यालय के अंदर उनको लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हैं. कहा जा रहा है कि आर्यन का स्‍तर उनके कद के अनुरूप नहीं है, लिहाजा वो खुद अब यहां रहना नहीं चाहते हैं. वे जल्‍द ही इस संस्‍थान से विदाई ले लेंगे, कोई कह रहा है कि वो इस संस्‍थान से विदा हो चुके हैं, पर आधिकारिक बात का जहां तक सवाल है तो खबर है कि वो अभी भी जुड़े हुए हैं. यह अफवाह ऐसे लोगों द्वारा फैलाई जा रही है जो नहीं चाहते कि वो यहां रुकें.

अब दूसरी खबर मौर्य टीवी से जुड़ी है. यहां भी चर्चा है कि चैनल को हेड कर रहे राजेश कुमार को भी जाने को कह दिया गया है. राजेश अब दूसरे चैनलों में अपना डेरा डंडा जमाने की कोशिश में जुटे हुए हैं. कहा जा रहा है कि वे आर्यन के साथ जुड़ सकते हैं क्‍योंकि राकेश शुक्‍ला की विदाई की खबरें वहां तैर रही हैं. मौर्य से अनुरंजन के जुड़ने की चर्चा काफी तेज है. अनुरंजन भी सीएनईबी से इस्‍तीफा देने के बाद खाली हैं. इस लिए इन कयासों को बल मिल रहा है. पर सभी मामलों में आधिकारिक तौर पर बात की जाए तो सभी ऐसी किसी भी कयासबाजी को नकारा है. दोनों चैनलों में यथास्थिति बनी हुइ है यानी न कोई आने वाला है और न कोई जाने वाला है.

पर माना जा रहा है कि अगर इस तरह की बातें हवा में उड़ रही हैं तो कुछ प्रतिशत सच्‍चाई तो होगी ही, भले ही वो अभी सामने न आए पर आगे ऐसा देखने को मिल सकता है. वैसे भी पिछले कुछ महीनों में पटना की मीडिया में जितनी हलचल देखने को मिली है, उससे इन आशंकाओं को बल मिलता है. अब देखना है कि यहां उड़ने वाला कयासों के धुंए के पीछे आग भी जल रही है या फिर यह बस गर्द-गुब्‍बार ही है.

एक पत्रकार द्वारा भेजा गया पत्र.


AddThis