आईबीएन7 में होली पर पार्टी, चले लात-घूंसे

E-mail Print PDF

होली के पहले आईबीएन7 की पार्टी में प्रोग्रामिंग और स्‍पोर्टस के दो वरिष्‍ठों के बीच जमकर मारपीट हुई. लात-घूंसे चले. यह घटना चैनल के कई लोगों के सामने हुई. मामला वरिष्‍ठों तक पहुंच गया है. खबर है कि इसकी जांच शुरू कर दी गई है. इस मामले में कार्रवाई होली के बाद यानी सोमवार को होगी. जो दोषी पाया जाएगा उसका जाना तय माना जा है. इस लड़ाई के कारण को लेकर कई तरह की चर्चाएं हैं.

आईबीएन7 में एनटी अवार्ड जीतने तथा होली की खुशी में एक पार्टी रखी गई थी. पार्टी में जमकर खाना-पीना हुआ. खाने के बाद पीने का दौर भी चला. चैनल में इसके पहले भी होली के मौके पर ऐसी पार्टियां होती रही हैं. इसमें जूनियर-सीनियर और चैनल के कर्ताधर्ता सभी सम्मिलित हुए. जब तक सीनियर मोस्‍ट पार्टी में थे, तब तक पार्टी में सब कुछ ठीक-ठाक चल रहा था. उन लोगों के जाते ही पार्टी में धूम-धड़ाका नाच-गाना शुरू हो गया. लड़कियों के सामने अपने नम्‍बर बढ़ाने की कवायद भी शुरू हो गई. उनके साथ नाचने का दौर भी शुरू हो गया.

बताते हैं इसी बीच लड़कियों के साथ नाच-गाने का मामला लेकर प्रोग्रामिंग विभाग के सीनियर और स्‍पोर्टस डेस्‍क के एंकर आमने-सामने आ गए. इन दोनों के बीच पहले तू-तू-मैं-मैं हुआ. इसके बाद बात बढ़ी तो स्‍पोर्टस वाले सज्‍जन ने प्रोग्रामिंग वाले महोदय को घूंसे जड़ दिए. इसके बाद फिर दोनों तरफ से लात-घूंसे और जूतम-पैजार हुआ. गुत्‍मथ-गुत्‍थी, लिपटा-चिपटी हुई. वहां मौजूद लोगों ने किसी तरह बीच बचाव कर मामले को शांत कराया. इसके कुछ देर बाद दोनों लोग पार्टी से निकल गए.

वैसे इस मारपीट के कारण को लेकर कई तरह की चर्चाएं हैं. कुछ लोगों का कहना है कि यह मारपीट तात्‍कालिक रियेक्‍शन की वजह से नहीं हुआ है, इन दोनों लोगों के बीच पहले से ही शीतयुद्ध चल रहा था. यानी रंजिश पहले से ही थी. इस पार्टी लड़कीबाजी और दारूबाजी के बहाने इनकी भड़ास भी सबके सामने आ गई. खबर है कि इसकी सूचना चैनल के कर्ताधर्ताओं को दी जा चुकी है. वे इस मामले की जांच करा रहे हैं. संभवाना है कि सोमवार तक इसमें कार्रवाई हो जाएगी.

यानी इस पार्टी के चलते किसी न किसी की होली तो खराब हो ही सकती है. सबसे बड़ी बात है कि चैनल के भीतर इस तरह की पार्टी रखने का कितना औचित्‍य है. और जब कॉकटेल पार्टी थी तो किसी न किसी मोस्‍ट सीनियर को मौके पर मौजूद भी रहना चाहिए था. क्‍योंकि इस तरह की पार्टियों में मारपीट या झड़प होना सामान्‍य सी बात होती है. यहां भी यह झड़प लड़कियों के साथ नाचने को लेकर हुई. पिये हुए लोग जमकर लड़कियों के साथ नाच-गाना कर रहे थे. सवाल यह है कि क्‍या प्रबंधन इस तरह की पार्टी इन्‍हीं सब कार्यों के लिए आयोजित करता है?


AddThis