तीन दिन बाद भी पत्रकार राकेश का कोई सुराग नहीं

E-mail Print PDF

: परिजन अनहोनी की आशंका से परेशान : मऊ के दैनिक हिंदुस्‍तान के कार्यालय से मंगलवार की रात से रहस्यमय परिस्थितियों में लापता हुए पत्रकार राकेश सिंह का 60 घंटे बाद भी पता नहीं चल सका है. पुलिस उनकी तलाश में हाथ-पैर मार रही है. पुलिस की एक टीम कानपुर रवाना की गयी है. उधर अपहरण व हत्या किये जाने की आशंका से तीसरे दिन भी राकेश के परिजन व शुभचिंतक परेशान रहे.

पुलिस एबीसी केबिल के ठेके को लेकर हुए विवाद को ही केंद्र मानकर जांच में जुटी हुई है. पुलिस अधीक्षक ओंकार सिंह का कहना है कि पुलिस जल्द ही घटना का खुलासा कर देगी और राकेश की सकुशल बरामदगी होगी. मनिजामुद्दीनपुरा स्थित दफ्तर से राकेश के लापता होने के बाद से तलाश में जुटी पुलिस ने एबीसी केबिल से जुड़े एक स्थानीय ठेकेदार को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की है.

सारहू चौकी इंचार्ज केएम मिश्रा के नेतृत्व में एक टीम को कानपुर के ठेकेदार से पूछताछ के लिए भेजा गया है. इसके अलावा सीओ सिटी श्रवण कुमार सिंह, शहर कोतवाल वाईपी सिंह को राकेश को यहां तलाश के लिए लगाया गया है. पुलिस की जांच का मुख्य बिंदु एबीसी केबिल लगाये जाने के दौरान पेमेंट फंसने को लेकर चल रहा विवाद है. इसके अलावा भी अन्य बिंदुओं पर छानबीन की जा रही है. उधर घटना के तीसरे दिन भी किसी अनहोनी की आशंका को लेकर राकेश के परिजन परेशान रहे. जिले के पत्रकारों में भी इस घटना से दहशत और रोष है.


AddThis