पैसे लेकर नौकरी का झांसा देने के मामले में आर्यन टीवी का कर्मचारी गिरफ्तार

E-mail Print PDF

: अजय के छह अन्‍य साथियों को भी पुलिस ने पकड़ा : आर्यन टीवी में इस समय कुछ भी सही नहीं चल रहा है. चैनल को पता नहीं किसकी नजर लग गई है कि एक परेशानी खतम नहीं हो रही है कि दूसरी चली आ रही है. अभी तक पुलिस सीएमडी को खोजने आ रही थी. नई खबर यह है कि पुलिस ने लाइब्रेरी में कार्यरत अजय कुमार को पकड़ लिया है. उन पर आरोप है कि वो किसी को रेलवे में नौकरी दिलवाने के नाम पर पैसे वसूले थे.

जानकारी के अनुसार आर्यन टीवी के लाइब्रेरी में कार्यरत अजय कुमार कुछ व्‍यक्तियों को रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर पैसे लिए थे. नौकरी तो नहीं दिलवा पाए, पैसे भी वापस नहीं करा पा रहे थे. उन्‍हीं की शिकायत पर पुलिस ने जब गिरफ्तारी शुरू की तो एक गिरोह का पर्दाफाश हुआ, जो रेलवे में नौकरी लगावाने के नाम पर ठगी करता था. जिसके बाद अजय कुमार को पुलिस ने पकड़ लिया. अजय समेत पुलिस ने सात लोगों का गिरोह पकड़ा है, जिसमें मुन्ना सिंह, जयशंकर चौधरी, अमित कुमार, रवि कुमार, अशोक कुमार और आशीष रंजन शामिल हैं. पुलिस का कहना है कि अजय अपने को चैनल का अपर मैनेजर बता रहा है.

इससे पहले पुलिस कई बार चैनल के सीएमडी और बिल्‍डर अनिल कुमार को पकड़ने के लिए पुलिस चैनल का चक्‍कर लगा चुकी है, लेकिन पत्रकारिता की आड़ में वे बचने में सफल हो जा रहे हैं. इसके चलते कर्मचारी भी परेशान हैं, वहीं एक और फरमान ने उनको मुश्किल में डाल रखा है. कर्मचारियों ने बताया कि चैनल हेड ने न्‍यूज रूम में मोबाइल लाने पर बिल्‍कुल पाबंदी लगा दी है. सभी लोगों के मोबाइल रिसेप्‍शन पर जमा करा दिए जा रहे हैं.

एक कर्मचारी ने बताया कि इस तरह का तानाशाही तथा तुगलकी फरमान शायद ही किसी चैनल में दिया गया हो. इसके चलते हमारे जरूरी काल भी प्रभावित हो रहे हैं. बात करने पर जुर्माना का प्रावधान बना दिया गया है. किससे बात हो रही थी, क्‍यों बात हो रही थी जैसे सवाल भी पूछे जाने लगे हैं. सभी लोग मानसिक रूप से परेशान हो चुके हैं. इन सभी संदर्भों में जब प्रबंधन का पक्ष लेने के लिए चैनल हेड गुंजन सिन्‍हा को फोन किया गया तो उन्‍होंने मीटिंग में होने की बात कहकर फोन रख दिया.


AddThis