व्‍यापारी से वसूली करने गए दो पत्रकार पिटे

E-mail Print PDF

जालौन में व्यापारियों से अवैध रूप से वसूली करने गए दो पत्रकारों को व्यापारियों ने बंधक बनाकर पीटा. इतना ही नहीं उनका कैमरा भी छीन लिया. यह घटना जालौन के उरई नगर की है. बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने सभी प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश दिए थे कि किसी भी जगह पान-मसाले की पैकिंग प्लास्टिक पाउच में नहीं होगी.

परन्‍तु इस आदेश के बाबजूद खुले आम प्लास्टिक पाउच में पैकिंग हो रही है.  इसका फायदा जालौन के उरई मुख्यालय के दो पत्रकारों (जिसमे एक प्रिंट मीडिया और एक विजुअल मीडिया) ने उठाना चाहा और वह उन व्यापारियों को ब्लैकमेल करने रात्रि में निकल पड़े और उस स्थान पर पहुंचे जहां पान मसाले की पैकिंग हो रही थी.  उन्होंने वहां पर अपना कैमरा चलाना प्रारंभ किया.  जिस पर पान मसाले की देख रेख करने वाले आ गए.  उनलोगों ने दोनों पत्रकारों से यह करने के लिए मना किया और कुछ ले देकर मामला निपटने की बात कही,  लेकिन वह दोनों पत्रकार रुपये की ज्यादा मांग करने लगे.

जिस पर पान मसाला कम्पनी के मालिक को बुलाया गया. जिसके बाद उसने अपने कर्मचारियों की मदद से दोनों पत्रकारों को पकड़ लिया और और उनके साथ जमकर मारपीट की. बाद में उनका कैमरा भी छीन लिया,  लेकिन बाद में उन दोनों पत्रकारों ने व्यापारी के आगे गिड़गिड़ाकर अपना कैमरा वापिस लिया और इस घटना का किसी से जिक्र न करने की बात कही.

एक पत्रकार द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित.


AddThis