बाबा व भक्तों पर जुल्म के खिलाफ आज ब्लैक डे मनाएं

E-mail Print PDF

यशवंत सिंहकुछ काम अन्ना ने किया और काफी कुछ बाबा ने कर दिखाया. अन्ना ने करप्ट कांग्रेसियों पर भरोसा किया और सरकार के झांसे में आ गए तो नतीजा ये है कि उन्हें अब रोना पड़ रहा है, मुद्दा पीछे छूट गया और तेवर पीछे रह गया. शेष है तो सिर्फ फिजूल की बैठकों का दौर और बेवजह की उठापटकों की चर्चाएं.

बाबा ने हुंकार भरकर सत्याग्रह शुरू किया तो सरकार एक दफे चरणों में लोट गई. बाबा जब न माने तो बाबा को धक्का मारकर दिल्ली से बाहर भगा दिया. बाबा के अनुयायियों पर लाठियां बरसी. एक संत का अपमान. हजारों साधकों का अपमान. इस भारत देश में संत का ऐसा खुलेआम अपमान नहीं किया गया, उस संत का जो देश हित की बातें कर रहा है. बाबा रामदेव को जिस तरह से पुलिस वालों ने, गुप्तचर एजेंसियों के लोगों ने नजरबंद किया वह शर्मनाक है. जैसी पिटाई श्रद्धालुओं और सत्याग्रहियों की की गई, वह लोकतंत्र का काला अध्याय है. पर यह सब अब हो ही गया है तो तय मानिए की कांग्रेस ने अपने ताबूत में कील ठोंक ली है. देश का आम जन सांस बांधे टीवी देख रहा है. अखबार पढ़ रहा है. बाबा के अपमान को महसूस कर रहा है. सत्याग्रहियों के साथ हो रहे जुल्म को खुद पर जुल्म गिन रहा है.

वंदेमातरम और बाबा जिंदाबाद जैसे नारों के बीच पिटते लोगों को देखना अंग्रेजों के दौर की याद दिला देता है. यह जो घाव, यह जो जख्म सरकार ने ईमानदारी के साथ भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ने वालों को दिया है, वह जल्द भरेगा नहीं, वक्त का मरहम भी काम नहीं आए. अगले लोकसभा चुनाव में अगर कांग्रेस का सूपड़ा पूरे देश से साफ नहीं हुआ तो तय मानिए कि बाबा और उनके सत्याग्रहियों पर हुए जुल्म का बदला नहीं लिया गया. ऐसी कांग्रेसी सरकार के खिलाफ उठ खड़े होने और इसे उखाड़ फेंकने का दौर आ चुका है. आप जहां भी हों, जिस भी स्थिति में हो, बाबा और उनके लोगों पर हुए जुल्म के खिलाफ अपना विरोध प्रकट करें. अपने-अपने ब्लागों पर  पोस्ट लिखें. ट्विटर और फेसबुक पर ब्लैक डे मनाएं. आम जन के बीच कांग्रेस और उनके नेताओं के करप्शन की पोल खोलें और इनकी निंदा करें. और कुछ न करें तो कम से कम काली टीशर्ट या शर्ट पहनें.

मैं निजी तौर पर आज के दिन को काला दिवस के रूप में मना रहा हूं. इसी कारण भड़ास4मीडिया पर एक ब्लैक पट्टी लगा दी है. विरोध जताने के लिए ही यह पोस्ट लिख रहा हूं और फेसबुक व ट्विटर आदि पर भी बाबा व भक्तों पर हुए जुल्म के खिलाफ आवाज उठाऊंगा. अन्ना हजारे जिंदाबाद. रामदेव जिंदाबाद. भ्रष्टाचार के खिलाफ जंग जारी रहे. भ्रष्ट और निकम्मी कांग्रेस पार्टी और इसके कर्ताधर्ता मुर्दाबाद.... दांव-पेंच में फंसाकर करप्शन के मुद्दे को डायलूट करने वाली केंद्र सरकार मुर्दाबाद...

यशवंत

एडिटर

भड़ास4मीडिया

This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it


AddThis