दिल का दौरा पड़ने से हिंदुस्‍तान के वरिष्‍ठ पत्रकार प्रदीप संगम का निधन

E-mail Print PDF

दैनिक हिन्दुस्तान के दिल्ली संस्करण में कार्यरत वरिष्ठ सहायक संपादक प्रदीप संगम का मंगलवार सुबह हिमाचल प्रदेश में निधन हो गया। वह 51 वर्ष के थे। जानकारी के अनुसार वह अपने परिवार के साथ हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिला में स्थित चिंतपूर्णी देवी मंदिर के दर्शन के लिए गए थे। आज सुबह वह जब वहां सैर कर रहे थे तभी उन्‍हें अचानक दिल का दौरा पड़ा। अभी लोग कुछ समझ पाते या उन्‍हें अस्‍पताल पहुंचाते उसके पहले ही उनकी मौत हो गई।

संगम दमे की बीमारी से पीड़ित थे। उनका काफी समय से दमे का इलाज भी चल रहा था। मूल रूप से राजस्थान के बीकानेर जिले के वाशिंदा प्रदीप संगम का बचपन हरियाण के सोनीपत और दिल्ली में बीता। उन्होंने पत्रकारिता की शुरुआत उत्‍तर प्रदेश के बिजनौर के सांध्य दैनिक चिनगारी से की। इसके बाद वे सहारनपुर में विश्वमानव अखबार से जुड़ गए। सन 1995 में वे दिल्ली के हिंदी दैनिक हिन्दुस्तान के फीचर विभाग से जुड़े तब से यहीं पर कार्यरत थे। प्रदीप संगम अपने पीछे पत्नी अनीता, एक पुत्र और एक पुत्री को छोड़ गए हैं। संगम पत्रकार संगठनों में भी सक्रिय थे और दिल्ली पत्रकार संघ के कोषाध्यक्ष थे।

उनके निधन की सूचना मिलने पर नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स से सम्बद्ध दिल्ली पत्रकार संघ(डीजेए) ने दिल्‍ली में एक शोक सभा आयोजित की, जिसमें दिल्ली के स्वास्थ्य मन्त्री अशोक वालिया (एनयूजे) के राष्ट्रीय महासचिव रास बिहारी (डीजेए) के अध्यक्ष मनोज वर्मा और महासचिव अनिल पाण्डे सहित अनेक पत्रकारों ने उन्हें श्रद्धाजंलि अर्पित की।


AddThis