यूपी के बहराइच में दो पत्रकारों को पुलिस वाले कर रहे हैं प्रताड़ित

E-mail Print PDF

: राष्ट्रीय सहारा और डीएनए के जर्नलिस्टों पर फर्जी मुकदमे लादने के खिलाफ पत्रकारों ने दिया ज्ञापन : उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले से खबर है कि यहां क मोतीपुर थाना इंचार्ज एवं सी.ओ. नानपारा ने दो पत्रकारों पर फर्जी मुकादमा दर्ज करा दिया है. इससे आक्रोशित पत्रकारों ने जिलाधिकारी निवास पर धरना दिया और महामहिम राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट को सौंपा.

जिन दो पत्रकारों पर फर्जी मुकदमें दर्ज कराए गए हैं उनमें एक राष्ट्रीय सहारा के मिहींपुरवा संवाददाता दुर्गेश कुमार हैं और दूसरे डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट अखबार के रिपोर्टर अनिल कुशवाहा हैं. पुलिस इन दोनों से इसलिए नाराज थी क्योंकि इन लोगों ने अपने अपने अखबारों में पुलिस के खिलाफ खबरें भेजीं जो छपी भी. पुलिस के खिलाफ समाचार छपने से स्थानीय पुलिस ने कुछ पेशेवर लोगों से सांठगाँठ करके इन दोनों के खिलाफ दलित उत्पीडन का मुकदमा दर्ज करा दिया.

पुलिस की इस कार्रवाई से जनपद के पत्रकारों में रोष व्याप्त है. पत्रकार एस.एम. कादरी, कुंवर दिवाकर सिंह, अज़ीम मिर्ज़ा, एस.पी.मिश्र, आजय शर्मा, शब्बीर साहिल अंसारी, मुश्ताक खान, डा. ममता सिंह परिहार ने रोष प्रकट करते हुए राज्यपाल को प्रेषित ज्ञापन में फर्जी मुक़दमे को समाप्त करने व पुलिस अधिकारियों के विरुद्ध कड़ी कारवाई की मांग की है.


AddThis