जागरण प्रभारी पर हत्‍यारे की मदद का आरोप, प्रभारी ने इसे साजिश बताया

E-mail Print PDF

हिंदु युवा वाहिनी, बस्‍ती की तरफ से आरोप लगाया गया है कि दैनिक जागरण, बस्‍ती के प्रभारी आशुतोष मिश्र एक हत्‍यारे को बचाने में जी जान से लगे हुए हैं. हिंदु वाहिनी की तरफ से मंडलायुक्‍त राकेश कुमार गोयल को ज्ञापन भी दिया गया है. जिस में जागरण के जिला प्रभारी आशुतोष मिश्रा के फोन की कॉल डिटेल निकालकर कार्रवाई करने की बात कही गई है.

बीते 25 जुलाई को हिंदु युवा वाहिनी के प्रदेश संयोजक विष्‍णु दत्‍त ओझा की गोली मारकर हत्‍या कर दी गई थी. इसमें मुख्‍य अभियुक्‍त समाजवादी पार्टी के जिला सचिव मुकुट मिश्र को बनाया गया. इनके गिरफ्तारी की खबर केवल जागरण अखबार ने छापी, इसके बाद से ही हिंदु युवा वाहिनी के कार्यकर्ता आशुतोष के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं. उन्‍होंने मंडलायुक्‍त को ज्ञापन देकर आशुतोष मिश्रा के फोन डिटेल की जांच कराए जाने की मांग की है.

हालांकि इस संबंध में जो दूसरी कहानी निकल कर आ रही है वह यह है कि आशुतोष को उनके ही कुछ साथी बस्‍ती से हटवाना चाहते हैं. इसके पीछे कारण यह है कि देवरिया के रहने वाले आशुतोष को जब बस्‍ती भेजा गया था तब यहां कार्यरत कुछ स्‍थानीय प्रतिनिधियों का तबादला तहसील मुख्‍यालयों के लिए कर दिया गया था, तभी से वे लोग आशुतोष को हटाने की जुगत में लगे हुए थे.

इस संदर्भ में जब आशुतोष से उनका पक्ष जानने की कोशिश की गई तो उन्‍होंने कहा कि मैं गलत हूं तो मेरी भूमिका की जांच कराई जाए. मेरे खिलाफ साजिश रची जा रही है ताकि मुझे बस्‍ती से हटवाया जा सके. उन्‍होंने फोन कॉल के संबंध में कहा कि हत्‍या के आरोपी मुकुट मिश्र सपा के जिला सचिव थे तथा सपा पिछले कई दिनों से धरना-प्रदर्शन कर रही थी, लिहाजा उस संदर्भ में कुछेक बार उनकी बात हुई है. इसकी जांच कराई जा सकती है.


AddThis