फर्जी मुकदमा लिखवाकर पत्रकार एवं शिक्षक को फंसाया गया!

E-mail Print PDF

औरैया जिले में स्थित अछल्‍दा रेलवे स्‍टेशन के कर्मचारियों ने खबर छापने से नाराज होकर एक पत्रकार एवं उसको समाचार उपलब्‍ध कराने वाले प्राथमिक विद्यालय के एक शिक्षक के खिलाफ मामला दर्ज करा दिया है. पुलिस ने शिक्षक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है, जबकि पत्रकार की तलाश की जा रही है. इस घटना से पत्रकारों में रोष व्‍याप्‍त है.

जानकारी के मुताबिक अछल्‍दा रेलवे स्‍टेशन पर व्‍याप्‍त समस्‍याओं और गोरखधंधे को लेकर पत्रकार पीके पोरवाल उर्फ बबलू पोरवाल ने कई खबरें लिखी थीं. रेलवे स्‍टेशन पर आए दिन बुकिंग क्‍लर्क द्वारा यात्रियों से ज्‍यादा पैसा लिए जाने के आरोप भी लगते रहते थे. इसकी शिकायत दो यात्री राम प्रकाश एवं मु. सगीफ शेख सिद्दीकी ने अपनी शिकायत पंजिका पर दर्ज कराई थी. इसकी जांच के लिए रेलवे की एक टीम भी आई थी, जिसके बाद स्‍थानीय कर्मचारियों ने शिकायत करने वाले को धमकाया भी था.

पीके पोरवाल ने इसी आधार पर खबर प्रकाशित कर दी, जिसके बाद स्‍टेशन के अधिकारी एवं रेलकर्मी बौखला गए. इन लोगों ने पत्रकार एवं उनको खबर के बारे में जानकारी व सहयोग उपलब्‍ध कराने वाले प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाध्‍यापक प्रमोद कुमार के खिलाफ कई धाराओं में फर्जी तरीके से मामला दर्ज करा दिया. पुलिस ने भी तत्‍काल कार्रवाई करते हुए शिक्षक को गिरफ्तार कर लिया, जबकि पत्रकार की तलाश की जा रही है.


AddThis