डिप्‍टी जेलर ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, दो मीडियाकर्मी घायल

E-mail Print PDF

: अपडेट : एचबी सिंह को जेल भेजा गया : आगरा : दिल्ली गेट स्थित ईस्ट लाइट होटल एंड बार में गुरुवार रात सेंट्रल जेल के डिप्टी जेलर ने जमकर हंगामा किया। अचानक उसने ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी, जिससे दो मीडिया कर्मी घायल हो गए। हमलावर को मौके पर ही दबोच लिया गया, जबकि उसका एक साथी भागने में सफल रहा। यह होटल एवं बार मून नेटवर्क के मालिक सरदार मोहन सिंह का बताया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार ग्‍यारह बजे रात में सेंट्रल जेल का डिप्‍टी जेलर एचबी सिंह अपने दोस्‍त सोनु के साथ बुलेट नंबर यूपी 24 8367 से होटल में आया. मून न्यूज नेटवर्क के नीचे स्थित बार में दोनों ने शराब पी। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि नशा चढ़ते ही डिप्‍टी जेलर ने रौब दिखाना शुरू कर दिया। नशे में लोगों की ऐसी की तैसी करने की बातें करने लगा। जब शराब पीने के बाद बारकर्मी बिल लेकर आया तो उसने कह दिया कि वह भुगतान नहीं करेगा। इसके बाद उसने हंगामा शुरु कर दिया। शोर शराबा होते देख मून टीवी के मीडियाकर्मी बाहर आ गए।

मीडियाकर्मियों ने डिप्‍टी जेलर की हरकत का विरोध किया। इस पर वो भड़क गया। दोनों पक्षों में जमकर गर्मागर्मी हुई। इसी बीच नशे में धुत एचबी सिंह ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल निकाल कर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। यह देख  बार के कर्मचारी, मीडियाकर्मी तथा वहां खड़े लोग इधर-उधर भागे। परन्‍तु डिप्‍टी जेलर के पिस्‍टल से चली गोलियां मीडिया कर्मी राजकुमार उप्पल और विनीत वर्मा के पैरों में गोलियां लग गयीं। गोलियां लगने से होटल के शीशे भी चकनाचूर हो गए।

फायरिंग के बाद क्षेत्र में अफरातफरी मच गई। तमाम तरह की अफवाहें उड़ने लगी। इसी बीच किसी ने पुलिस को इस घटना की जानकारी दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने नशे में झूम रहे एचबी सिंह को अपने काबू में किया, जबकि उसका साथी सोनू फरार हो गया। दोनों घायल मीडियाकर्मियों को जिला अस्‍पताल भेजा गया। जानकारी मिलने पर सीओ हरिपर्वत असीम चौधरी भी मय फोर्स वहां पहुंच गए। डिप्‍टी जेलर की लाइसेंसी पिस्‍टल बरामद कर उसे हवालात में डाल दिया गया।

डिप्‍टी जेलर के कारनामे की सूचना मिलते ही सेंट्रल जेल के अधिकारी और डीआईजी असीम अरुण भी पहुंच गए। देर रात तक पुलिस कानूनी कार्रवाई में उलझी रही। होटल के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज निकालकर पुलिस पूरे घटना की जांच कर रही है। दूसरी तरफ आरोपी डिप्‍टी जेलर का कहना है कि वह खाना खाने होटल में जा रहा था। होटल कर्मियों ने अभद्रता कर मारपीट की थी। उसने आत्‍म रक्षा के लिए हवाई फायर किए जिसमें दोनों मीडियाकर्मी घायल हो गए। खबर है कि पुलिस ने सीसी टीवी फुटेज देखने के बाद डिप्‍टी जेलर को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है।


AddThis