पत्रकार पर जानलेवा हमला, मामला दर्ज, जांच में जुटी पुलिस

E-mail Print PDF

नूरमहल में अंग्रेजी दैनिक समाचार पत्र के संवाददाता दिलबाग सिंह पर हुए कातिलाना हमले की गुत्थी अभी सुलझ नहीं पाई है। पुलिस इस मामले की जांच में बुरी तरह उलझ गई है। दिलबाग ने जिन दो युवकों पर शंका जाहिर की थी, उनको पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। परन्‍तु पूछताछ में उन दोनों की संलिप्‍ता नहीं पाई गई है, जिसके बाद पुलिस ने जांच की दिशा बदल दी है। अब कई अन्‍य पहलुओं को ध्‍यान में रखकर मामले की जांच की जा रही है।

पुलिस के एक विशेष दल ने दिलबाग से लिए गए इनपुट के आधार पर दो युवकों का स्कैच तैयार किया है। एक विशेष काउंटर इंटेलिजेंस की टीम भी इस केस को सुलझाने में जुट गई है। पुलिस उम्‍मीद जता रही है कि स्‍कैच के सहारे वो आरोपियों तक जरूर पहुंच जाएगी। पुलिस अधीक्षक (डी) गुरमीत सिंह भी इस बात की पुष्टि करते हैं कि शक के आधार पर हिरासत में लिए गए दोनों युवकों की इस हमले के मामले में शामिल होने की बात अभी सामने नहीं आई है, लेकिन अभी भी उनको क्लीन चिट नहीं दी जा रही है। वे अब भी हमारे शक की रडार में हैं। मामले में जांच चल रही है। गुरमीत सिंह ने माना कि इन युवकों से पूछताछ के बाद जांच की दिशा बदल चुकी है, कई कोणों को ध्‍यान में रखकर पुलिस जांच में जुट गई है।


AddThis