पत्रकारिता की छात्रा को उसकी सहपाठी ने सरेआम पीटा

E-mail Print PDF

फरीदाबाद : शहर की एक डीम्ड युनिवर्सिटी में शर्मशार कर देने वाली घटना सामने आई। मामूली बात पर एक छात्रा को उसकी सहपाठी छात्रा ने अपनी दो बहनों और रिश्ते में भाई व उसके दोस्तों के साथ मिलकर जमकर पीटा। यह वाकया युनिवर्सिटी के गेट पर हुआ। उस दौरान वहां सिक्योरिटी गार्ड दजर्नों छात्र-छात्रएं मौजूद थे। लेकिन किसी ने छात्र को बचाने का प्रयास नहीं किया।

बाद में वहां कॉलेज के अन्य स्टाफ और पुलिस के पहुंचने पर मामला शांत हुआ। पुलिस आरोपी छात्र-छात्राओं को हिरासत में लेकर चौकी ले आई। लेकिन बाद में आरोपियों के माफी मांगने और बदनामी के डर से छात्र और उसके परिवार ने शिकायत वापस ले ली। सेक्टर-18 की नमिता (बदला हुआ नाम) सूरजकुंड रोड स्थित मानव रचना डीम्ड युनिवर्सिटी से पत्रकारिता का कोर्स कर रही हैं। नमिता के मुताबिक दो दिन पहले कालेज की ही एक सहपाठी से किसी बात को लेकर उसकी कहासुनी हो गई थी। जिसे लेकर दोनों में काफी वाद विवाद हो गया था। उस समय उनके अन्य दोस्तों ने मामला शांत करा दिया था। गुरुवार को वह कॉलेज गई। आरोप है कि पुरानी बात को लेकर अनंगपुर गांव की छात्रा अपनी दो बहनों और रिश्ते में भाई व उसके दोस्तों के साथ मिलकर उसे युनिवर्सिटी के गेट पर घेर लिया। छात्रा व उसकी बहनों ने नमिता के बाल पकड़कर उसे जमीन पर गिरा दिया और उसकी पिटाई शुरू कर दी।

हद तो तब हो गई जब छात्राओं के साथ आए युवकों ने भी उसे पीटना शुरू कर दिया। यह मारपीट करीब पांच मिनट तक चलती रही। इस दौरान वहां गेट पर खड़े सिक्योरिटी गार्ड और कॉलेज के अन्य छात्र मूक दर्शक की भांति वहां तमाशा देखते रहे। बाद में इसकी सूचना लगने पर कॉलेज के स्पोर्ट्स टीचर वहां पहुंच गए और छात्रा को उनके चंगुल से छुड़ाया। इसकी सूचना मिलते ही सेक्टर-46 चौकी प्रभारी चमन और अन्य पुलिसकर्मी पहुंच गए। आरोपी छात्र और छात्राओं को हिरासत में लेकर चौकी ले आए। कुछ देर में वहां दोनों पक्षों के अन्य लोग भी पहुंच गए। आरोपी छात्र और छात्राओं के माफी मांगने और बदनामी के डर से छात्रा ने अपनी शिकायत वापस ले ली। उधर युनिवर्सिटी के पत्रकारिता विभाग के प्रभारी डॉ. अतानू महापात्र ने पूरे मामले की जांच कराये जाने की बात कही है। इनके मुताबिक दोसी छात्रों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। साभार : हिंदुस्‍तान


AddThis