हिंदुस्‍तान के कन्‍नौज कार्यालय में भिड़े ब्‍यूरोचीफ एवं असिस्‍टेंट मैनेजर

E-mail Print PDF

: ब्‍यूरोचीफ कानपुर अटैच किए गए : हिंदुस्‍तान, कन्‍नौज का कार्यालय तीन दिन पहले रणभूमि बन गया. इत्र नगरी में स्थित हिंदुस्‍तान के कार्यालय में ब्‍यूरोचीफ बृजेश श्रीवास्‍तव और असिस्‍टेंट सेल्‍स मैनेजर राजेन्‍द्र अवस्‍थी के बीच जमकर गाली-ग्‍लौज और धक्‍का मुक्‍की भी हुई. सूत्रों ने बताया कि ब्‍यूरो चीफ ने सेल्‍स के लोगों की खूब मां बहन की. इसके बाद नाराज असिस्‍टेंट मैनेजर ने इसकी सूचना वरिष्‍ठों को दी, जिसके बाद ब्‍यूरोचीफ को कानपुर अटैच कर दिया गया है.

घटना के संदर्भ में बताया जाता है कि स्‍थानीय संपादक विशेश्‍वर कुमार के खासमखास माने जाने वाले बृजेश श्रीवास्‍तव कन्‍नौज में काम करने के बाद शाम को सात-साढ़े बजे कानपुर अपने घर के लिए निकल जाते थे. किसी ने इसकी शिकायत कानपुर में कर दी, जिसके बाद प्रादेशिक डेस्‍क प्रभारी विजय शंकर पांडेय ने रात आठ बजे कन्‍नौज कार्यालय में फोन किया, परन्‍तु बृजेश श्रीवास्‍तव कार्यालय में नहीं मिले. इसके बाद उन्‍होंने अगले दिन दोपहर बृजेश के मोबाइल पर फोन किया तथा पूछा कि आप कहां हैं तो ब्‍यूरोचीफ ने बताया कि कन्‍नौज में. इस पर विजय शंकर ने कहा कि झूठी रिपोर्ट करते हैं. थोड़ी बहुत खरी-खोटी भी सुनाई.

इस घटना के बाद से भन्‍नाए बृजेश श्रीवास्‍तव कार्यालय पहुंचे तथा सेल्‍स डिपार्टमेंट के लोगों को सामूहिक रूप से गाली देने लगे. उनका मानना था कि उनके कानपुर जाने की शिकायत सेल्‍स विभाग के लोगों ने ही की है. जब असिस्‍टेंट सेल्‍स मैनेजर राजेंद्र अवस्‍थी उन्‍हें इस तरह से गाली देने से मना किया तो बृजेश भड़क गए. इसके बाद दोनों लोगों में जमकर गाली-ग्‍लौज और धकका-मुक्‍की हुई. इसके बाद राजेंद्र अवस्‍थी ने तत्‍काल पूरे घटना की जानकारी मेल से कानपुर के जीएम नरेश पांडेय तथा सेल्‍स हेड अनुराग सिंह को दी. राजेंद्र ने यहां के माहौल में काम करने में असमर्थता जताते हुए अपने तबादले की बात भी लिखी.

इसकी जानकारी ऊपर तक भेजी गई. जांच के बाद बृजेश श्रीवास्‍तव को तत्‍काल कानपुर कार्यालय से अटैच कर दिया गया है. उन्‍हें यहां अभी कोई जिम्‍मेदारी नहीं दी गई है. कानपुर यूनिट से जुड़े जिलों से लगातार पलायन और इस गाली-ग्‍लौज की सूचना के बाद लखनऊ यूनिट हेड रजत, संपादक नवीन जोशी, दीपक माहेश्‍वरी तथा नेशनल हेड विजय सिंह भी कानपुर पहुंचे. विवाद के कारणों का पता लगाया गया. खबर है कि कानपुर यूनिट की लगातार बिगड़ती दशा और खराब होते माहौल तथा कुछ नए रणनीति के साथ हिंदुस्‍तान मीडिया वेंचर लिमिटेड के सीईओ अमित चोपड़ा और प्रधान संपादक शशि शेखर भी रविवार को कानपुर पहुंचने वाले हैं.

सूत्रों का कहना है कि इन वरिष्‍ठों के दौरे को लेकर कानपुर यूनिट में हड़कम्‍प की स्थिति है. नरेश पांडेय और विशेश्‍वर कुमार मामले को ठण्‍डे बस्‍ते में डालने की कोशिश में लगे हुए हैं. सूत्रों का कहना है कि शशि शेखर एवं अमित चोपड़ा कन्‍नौज के अलावा इटावा एवं कानपुर से जुड़े़ कई जिलों का दौरा करने वाले हैं. पिछले दिनों औरैया तथा इटावा से कई लोगों ने हिंदुस्‍तान का दामन छोड़ दिया था. ये वरिष्‍ठ व्‍यक्तिगत रूप से पत्रकारों से मिलकर उनकी समस्‍याएं सुनेंगे.


AddThis