मिस्र में बंदी बनाए गए 18 पत्रकारों को सेना ने छुड़ाया

E-mail Print PDF

मिस्र में चल रहे सरकार विरोधी और लोकतंत्र समर्थक विरोध प्रदर्शनों को कवर करने के दौरान राष्ट्रपति हुस्नी मुबारक के समर्थकों द्वारा बंदी बनाए गए 18 पत्रकारों को सेना ने छुड़ा लिया है. इन सभी को सुरक्षित जगह पर पहुंचा दिया है.

सीएनएन ने मिस्र की मीडिया की खबरों के हवाले से कहा है कि मुबारक समर्थकों द्वारा बंदी बनाए गए 18 पत्रकारों को सेना ने छुड़ा लिया है और इन सभी को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया गया है. हालांकि अभी तक इस बात की जानकारी नहीं है कि ये सभी पत्रकार किस समाचार संस्था के लिए काम करते हैं और बंदी बनाकर इन्हें कहां रखा गया था.

रिपोर्ट के अनुसार विरोध प्रदर्शनों के मुख्य केंद्र तहरीर चौक पर विदेशी पत्रकारों पर मुबारक समर्थकों ने हमला किया और उनकी पिटाई की. दूसरी तरफ पुलिस और सुरक्षा बलों ने भी कई पत्रकारों के साथ ज्यादातियां की. अल जजीरा समाचार चैनल ने कहा है कि हालिया घटना में मुबारक समर्थकों ने काहिरा स्थित उसके दफ्तर में तोड़फोड़ की और बाद में उसमें आग लगा दी. साभार : आजतक


AddThis