दोनों जर्मन पत्रकारों को ईरान ने रिहा किया

E-mail Print PDF

ईरान ने वीजा नियमों को तोड़ने के आरोप में गिरफ्तार किए गए दोनों जर्मन पत्रकारों को रिहा कर दिया गया है. इसके पहले अवैध इंटरव्यू करने की कोशिश में गिरफ्तार इन पत्रकारों को 20 महीने कैद की सजा सुनाई गई थी. जिसे बाद में 36,500 यूरो के जुर्माने में बदल दिया गया था. दोनों पत्रकारों को बीते साल दस अक्टूबर को पश्चिमोत्तर ईरान के तबरिस शहर में उस समय गिरफ्तार किया गया था, जब उन्होंने मौत की सजा पाई सकीनेह मोहम्मदी अश्तियानी के बेटे के साथ इंटरव्यू करने की कोशिश की थी. अश्तियानी को व्यभिचार के आरोप में मौत की सजा सुनाई गई थी, जिसे सारी दुनिया में हुई आलोचना के बाद निलंबित कर दिया था.

दोनों पत्रकारों की रिहाई के बाद जर्मन विदेश मंत्री गिदो वेस्टरवेले ने ईरानी विदेश मंत्री अली अकबर सलेही को धन्यवाद दिया. वेस्टरवेले ने राष्ट्रपति महमूद अहमदीनेजाद से भी मुलाकात की. रविवार रात को वेस्टरवेले बिल्ड आम जोनटाग अखबार के दोनों आजाद पत्रकारों के साथ वापस जर्मनी के लिए रवाना होंगे.


AddThis