सिक्ता देव समेत एनडीटीवी के कई लोगों को बंधक बनाया

E-mail Print PDF

एक बड़ी खबर एनडीटीवी से आ रही है. इस न्यूज चैनल की एंकर सिक्ता देव और चैनल के कैमरामैन समेत कई लोगों को गुजरात में बंधक बना लिया गया. घटना गुजरात के मुंद्रा समुद्र तट पर हुई. सिक्ता व उनकी टीम एनडीटीवी की तरफ से एक स्टोरी कवर करने मुंद्रा तट पर गई हुई थी. वहां देश के एक प्रमुख औद्योगिक घराने अडानी समूह के कुछ लोगों ने इन लोगों को बंधक बना लिया.

करीब आधे घंटे से ज्यादा समय तक इन लोगों को एक कमरे में बंद रखा गया. इनकी गाड़ियों की चाभियां निकाल ली गई और टायर पंक्चर कर दिए गए. बंधक बनाए रखे जाने के दौरान कैमरामैन से कैमरा छीनने की कोशिश की गई. ये सारी कार्रवाई अडानी समूह के कुछ लोगों के इशारे पर की गई. इनका कहना था कि यहां किसी भी तरह का कैमरा इस्तेमाल करना और कोई रिपोर्ट तैयार करना मना है. पर बाद में जब एनडीटीवी की टीम पुलिस स्टेशन जाने के लिए अड़ी रही तो अडानी समूह की तरफ से दूसरा कोई व्यक्ति आया और एनडीटीवी टीम से माफी मांगकर इन्हें जाने दिया. इसके बाद एनडीटीवी टीम ने पूरे घटनाक्रम पर एक स्टोरी तैयार कर एनडीटीवी मुख्यालय को सूचित किया. इस वक्त एनडीटीवी इंडिया न्यूज चैनल पर सिक्ता देव व उनकी टीम के बंधक बनाए जाने की खबर प्रमुखता से प्रसारित की जा रही है.

साथ ही अडानी समूह द्वारा मुंद्रा तट पर किए जा रहे अवैध कारनामों का भी खुलासा किया जा रहा है. ज्ञात हो कि अडानी समूह को पहले ही पर्यावरण मंत्रालय ने पर्यावरण के कई मानकों के उल्लंघन और नियम विरुद्ध निर्माण व प्रसार करने के कारण नोटिस दे रखा है. एनडीटीवी का कहना है कि मुंद्रा समुद्र तट पर अडानी समूह द्वारा बड़े पैमाने पर पारिस्थतिकीय संतुलन बिगाड़ने का काम किया जा रहा था, जिसको एनडीटीवी इंडिया शूट कर अपने दर्शकों तक पहुंचाने के प्रयास में था.

सिक्ता देव अपने साथ हुई घटना की जानकारी देती हुईं


AddThis