बच्‍चे का अपहरण कर फिरौती मांगने वाला पत्रकार गिरफ्तार

E-mail Print PDF

: उत्‍तर प्रदेश के देवरिया जिले की घटना : देवरिया में पुलिस ने एक लड़के का अपहरण करके एक लाख रुपये की फिरौती मांगने के मामले में सुहेल अंसारी नाम के एक पत्रकार को हिरासत में लिया है. लड़का अभी बरामद नहीं हुआ है. पुलिस मामला दर्ज कर लड़के की बरामदगी का प्रयास कर रही है. यह पत्रकार कांग्रेस का नेता भी बताया जा रहा है. पुलिस पत्रकार को साथ लेकर कई जगहों पर छापामारी कर रही है.

देवरिया के अबूकर नगर मुहल्‍ले में रहने वाली एक महिला का बारह साल का पुत्र समीउल्‍ला पिछले दिनों गायब हो गया था. इस लड़के का पिता सउदी अरब में काम करता है. महिला के घर के पास में ही रहने वाले ताज एक्‍सप्रेस तथा वॉयस आफ लखनऊ से जुड़े पत्रकार सुहेल अंसारी ने उसे समझाकर थाने में गुमशुदगी का रिपोर्ट दर्ज करवाया.

इसके बाद से ही उक्‍त महिला के नम्‍बर पर एक अनजान नम्‍बर से फोन आने लगा. एक लाख रुपये फिरौती की मांग की जाने लगी. महिला ने इसकी सूचना पुलिस को दी. पुलिस ने इस नम्‍बर को सर्विलांस पर लगा दिया. सिर्फ धमकी देने या फिरौती के लिए फोन करते समय ही इस नम्‍बर का इस्‍तेमाल किया जाता था. ज्‍यादातर समय तक यह नम्‍बर बंद ही रहता था. जिससे पुलिस लोकेशन ट्रैस नहीं कर पा रही थी. इसी बीच इस नम्‍बर से अमर उजाला के  एक पत्रकार के नम्‍बर पर कई बार फोन आया.

पुलिस ने जानकारी के लिए इस पत्रकार को बुलाया तथा उनसे नम्‍बर के बारे में पूछताछ की.  जिस पर उजाला के पत्रकार ने इस नम्‍बर का इस्‍तेमाल करने वाले सुहेल अंसारी के बारे में बता दिया. पुलिस ने सुहैल को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की तो उसने धमकी देने तथा फिरौती मांगने की बात कबूल कर ली. पुलिस ने धारा 364 ए के तहत मुकदमा दर्ज करके अपहृत बच्‍चे की बरामदगी की कोशिश में लग गई है. सुहेल ने पुलिस से बच्‍चे की सकुशल बरामदगी कराने की बात कही है.

इस संबंध में पूछे जाने पर उजाला के पत्रकार ने बताया कि उनका इस मामले से कोई लेना देना नहीं है. पुलिस ने इस नम्‍बर से फोन आने पर मुझसे जानकारी लेने के लिए बुलाया था. सीओ सिटी राजकुमार मिश्र ने बताया कि सुहेल अंसारी को अपहरण के मामले में गिरफ्तार किया गया है. हमारी प्राथमिकता बच्‍चे की सकुशल वापसी है. इसे लेकर हमलोगों कार्रवाई कर रहे हैं. फिलहाल धारा 364 ए के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. बच्‍चे की बरामदगी के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.


AddThis