उर्दू अखबार के पत्रकार पर डीएम की मौजूदगी में बरसीं लाठियां

E-mail Print PDF

बिहार के गोपालगंज जिले में इंटर की परीक्षा के दौरान खबर का कवरेज करने गये एक उर्दू अखबार के पत्रकार पर भी डीएम के साथ पहुंचे सुरक्षा गार्डों ने जमकर लाठियां बरसायीं. इसके चलते मीडियाकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गया. जब पीटने के बाद भी जब उनका जी नहीं भरा तो पुलिसवालों ने उसे नगर थाना के लॉकअप में बंद कर दिया.

सूत्रों के अनुसार गुरुवार को प्रथम पाली की इंटर परीक्षा की परीक्षा चल रही थी. इसी दौरान नगर के एसएस बालिका उच्च विद्यालय केन्द्र पर एक उर्दू अखबार के पत्रकार खबर संकलन के लिए पहुंचे. इसी दौरान जांच को निकले जिलाधिकारी पंकज कुमार पाल का काफिला भी उस केन्‍द्र पर पहुंच गया.

डीएम को देख पत्रकार उनकी फोटो लेने लगे. जिलाधिकारी ने उन्‍हें फोटो खींचने से रोका तथा आई-कार्ड दिखाने को कहा. इस पर पत्रकार ने अपना आई-कार्ड उन्‍हें दिखा दिया. इसके बाद भी जिलाधिकारी के साथ आये सुरक्षा गार्डों ने उक्त मीडिया कर्मी की बेवजह पिटाई कर दी.

बिहार में पत्रकारों पर जिस तरह से अत्‍याचार और हमले बढ़े हैं वह किसी भी सभ्‍य समाज के लिए उचित नहीं कहे जा सकते. दो दिन पूर्व तीन पत्रकारों को ग्रामीणों ने निशाना बनाया था, इस बार पुलिस ने एक पत्रकार को निशाना बना डाला. लालू के शासन में जंगलराज था तो नीतीश के शासन में पत्रकारों पर जुल्‍म बढ़े हैं. फिर भी सब मौन धारण किए हुए हैं.


AddThis