मधुकांत बने जीएनएन के आउटपुट हेड, धीरज एवं रजनीश भी जुड़े

E-mail Print PDF

दिल्‍ली आजतक से मधुकांत श्रोतिय ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर प्रोड्यूसर थे तथा पिछले छह सालों से जुड़े हुए थे. इन्‍होंने अपनी नई पारी जीएनएन न्‍यूज के साथ शुरू की है. यहां इन्‍हें आउटपुट हेड बनाया गया है. मधुकांत 17 सालों से मुख्‍य धारा की पत्रकारिता में सक्रिय हैं. वे लगभग बारह सालों तक समाचार एजेंसी यूएनआई के साथ भी जुड़े रहे. इनकी रिपोर्टिंग मैनेजिंग एडिटर डा. शिव कुमार राय को होगी.

पी7 न्‍यूज से धीरज त्रिखा ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर पीसीआर हेड थे. वे काफी समय से पी7 न्‍यूज से जुड़े हुए थे. उन्‍होंने अपनी नई पारी जीएनएन न्‍यूज के साथ शुरू की है. उन्‍हें यहां प्रोड्क्‍शन हेड बनाया गया है. पी7 से पहले धीरज जी स्‍पोर्टस को कई सालों तक अपनी सेवाएं दे चुके हैं. कई अन्‍य संस्‍थानों के साथ भी वे जुड़े रहे.

रजनीश त्रिपाठी ने भी जीएनएन से अपनी नई पारी की शुरुआत की है. उन्‍होंने रिपोर्टिंग सेक्‍शन में ज्‍वाइन किया है. रजनीश अपने करियर की शुरुआत 2008 में सीएनईबी से की थी. वे महुआ न्‍यूज, कात्‍यायनी, धर्म टीवी को भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं. जीएनएन आने से पहले वे ई-मीडिया सॉल्‍यूशन प्रोड्क्‍शन हाऊस से जुड़े हुए थे.


AddThis
Comments (2)Add Comment
...
written by anand mishra, May 06, 2011
sabhi ko nai pari shuru karne par badhai or shubhkamnain
...
written by kailash, May 06, 2011
मधुकांत जी जैसे शख्स का आज तक को टाटा कर देना ये साबित करता है कि अब वहां भले लोगों के लिए जगह नहीं रही... कम से अमिताभ जी के साथ तो कतई नहीं... मधुकांत जी को इस बात के लिए बधाई देनी पड़ेगी कि उन्होंने अमिताभजी को 5-6 सालों तक झेल लिया... दिखने में छोटन लगे, घाव करे गंभीर की परंपरा से आने वाले अमिताभ जी को लोगों को आजतक से विदा करने के कौशल के लिए गोल्ड मेडल दिया जाना चाहिए.... मुझे लगता है कि अपनी इस प्रतिभा के लिए वो ये गोल्डमेडल लेने में जरा भी देर नहीं करेंगे..
बहरहाल, मैं बेकार ही अपना वक्त उनके लिए जाया कर रहा हूं जिन्होंने ये तय कर लिया है कि वो नहीं सुधरेंगे... मधुकांत जी को नई जिम्मेदारी के लिए बधाईयां...

Write comment

busy
Last Updated ( Friday, 06 May 2011 18:56 )