जीएनएन में तीन माह भी नहीं रह पाए शिवकुमार राय

E-mail Print PDF

इसी साल मार्च के पहले सप्ताह में जीएनएन न्यूज नामक नए लांच होने वाले चैनल के मैनेजिंग एडिटर बने शिवकुमार राय के बारे में खबर है कि उनका इस्तीफा हो गया है. वे तीन महीने भी चैनल के साथ नहीं रह पाए. सूत्रों का कहना है कि तय समय में जो टारगेट शिवकुमार को दिए गए थे, वह पूरा नहीं हो सका था, इसी कारण उन्हें जाना पड़ा. कुछ लोगों का यह भी कहना है कि आंतरिक राजनीति बढ़ गई थी जिसके कारण शिवकुमार का इस्तीफा हुआ.

कहा जा रहा है कि शिवकुमार के माध्यम से जीएनएन न्यूज में आए करीब आधा दर्जन लोगों ने भी इस्तीफा दे दिया है. पर इसकी पुष्टि नहीं हुई है. जीएनएन न्यूज से जुड़े सूत्रों का कहना है कि आज शिव कुमार राय और उनके करीबी आधा दर्जन लोग आफिस नहीं आए हैं पर यह स्पष्ट नहीं है कि आधा दर्जन लोगों के इस्तीफे हुए हैं या नहीं. उधर, जीएनएन प्रबंधन ने साफ कर दिया है कि शिव कुमार राय ने इस्तीफा दे दिया है लेकिन किसी अन्य का इस्तीफा नहीं मिला है और अगर अनुपस्थित लोग काम पर लौटते हैं तो उनका स्वागत किया जाएगा, प्रबंधन निचले स्तर पर कार्यरत लोगों को नहीं निकालना चाहता.

उल्लेखनीय है कि जीएनएन न्यूज को लांचिंग से पहले ही झटके पर झटका लग रहा है. शिवकुमार राय से पहले मैनेजिंग एडिटर की कुर्सी पर अमिताभ भट्टाचार्या आसीन थे. इस तरह चैनल लांच हुए बिना ही जीएनएन न्यूज से दो मैनेजिंग एडिटरों का इस्तीफा हो चुका है. देखना है कि तीसरा मैनेजिंग एडिटर कौन बनता है और कितने दिन रह पाता है. इस ग्रुप के सीईओ राघवेश अस्थाना हैं जो कभी महुआ में हुआ करते थे.

चर्चा है कि राघवेश के साथ शिवकुमार राय की ट्यूनिंग नहीं बन पाई. पुराने कर्मियों को दरकिनार किया जा रहा था. कई तरह के विवाद शुरू हो गए थे. चैनल के मालिक जल्द से जल्द चैनल लांचिंग चाहते हैं पर उस दिशा में काम नहीं हो पा रहा था. इस चैनल में मचे घमासान से लांचिंग से पहले ही करीब 12 से ज्यादा लोग अब तक इस्तीफा दे चुके हैं. अभी हाल-फिलहाल जीएनएन न्यूज से अतुल सिंघल ने इस्तीफा देकर न्यूज एक्सप्रेस चैनल ज्वाइन किया है. लांचिंग से पहले कितने लोगों का अभी और इस्तीफा होना है, कुछ कहा नहीं जा सकता.


AddThis
Last Updated ( Saturday, 21 May 2011 14:56 )