भास्‍कर से अग्निमा, प्रमोद तथा अमर उजाला से सुजीत ठाकुर की कुट्टी

E-mail Print PDF

दैनिक भास्‍कर में श्रवण गर्ग को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं. जिस तरह से भास्‍कर के नेशनल ब्‍यूरो में कार्यरत दो लोगों को बिजनेस भास्‍कर के संपादक और मैनेजिंग एडिटर यतीश राजावत ने श्रवण गर्ग को विश्‍वास में लिए बिना निकाला है, उसके कई निहितार्थ निकाले जा रहे हैं. भास्‍कर के अंदरूनी सूत्रों का कहना है कि श्रवण गर्ग की ताकत को कम करके यतीश राजावत को मजबूत किया जा रहा है.

यतीश राजावत ने नेशनल ब्‍यूरो की मीटिंग ली थी. जिसके बाद उन्‍होंने सोलह सालों से भास्‍कर के साथ जुड़ी अग्निमा दुबे और छह महीने पहले प्रभात खबर से आए प्रमोद कुमार सुमन को निकाले जाने का आदेश दे दिया. ये दोनों निष्‍कासन श्रवण गर्ग की अनुमति और उन्‍हें विश्‍वास में लिए बगैर किए गए. यतीश राजावात ने प्रमोद सिंह और अरुण श्रीवास्‍तव पर भी तलवार लटका दी थी, परन्‍तु मामला किसी तरह टल गया. सूत्रों का कहना है कि समूह संपादक के रूप में काम देख रहे श्रवण गर्ग के पर कतर दिए गए हैं. अब उनसे नेशनल ब्‍यूरो लेकर उन्‍हें लोकल तक ही सीमित कर दिया गया है. यतीश राजावत लगातार मजबूत होते जा रहे हैं, जिस तरह से उन्‍होंने दो लोगों को निकाला है, उससे उनकी नेशनल ब्‍यूरो में लगातार बढ़ती हनक तथा ताकत को समझा जा सकता है.

अमर उजाला के नेशनल ब्‍यूरो से खबर है कि सीनियर पत्रकार सुजीत ठाकुर ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे नोटिस पीरियड पर चल रहे हैं. वे कहां से अपनी नई पारी शुरू करने वाले हैं. इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है. सुजीत काफी समय से अमर उजाला के नेशनल ब्‍यूरो से जुड़े हुए थे.


AddThis
Last Updated ( Monday, 06 June 2011 15:50 )