सहारा : राकेश शुक्‍ला जुड़े, अजय शर्मा की वापसी, राय लाबी दुबकी, ब्राह्मण लाबी फार्म में

E-mail Print PDF

सहारा मीडिया से दो खबरें हैं. वरिष्‍ठ पत्रकार तथा रिलायंस ब्रॉडकास्‍ट के बिग मैजिक के लिए कार्यक्रम बनाने में जुटे राकेश शुक्‍ला के बारे में खबर है कि उन्‍होंने सहारा मीडिया ज्‍वाइन कर लिया है. उन्‍हें स्‍ट्रेटजी, प्‍लानिंग और आपरेशन का हेड बनाया गया है. बताया जा रहा है कि वे सहारा के भविष्‍य के कुछ बड़े प्रोजेक्‍ट को हैंडल करेंगे. इससे पहले राकेश शुक्‍ल पी7 न्‍यूज से जुड़े हुए थे.

आजतक चैनल से इस्‍तीफा देने के बाद राकेश शुक्‍ल दुबई और सिंगापुर बेस्‍ड प्रापर्टी चैनल को हेड किया. यहां से इस्‍तीफा देने के बाद वे पी7 न्‍यूज चले गए थे. पी7 न्‍यूज से जब उन्‍होंने इस्‍तीफा दिया तब उनके पास कुछ नॉन न्‍यूज चैनलों के ऑफर थे, परन्‍तु उन्‍होंने इससे इनकार करते हुए न्‍यूज चैनल के साथ जुड़े रहने को ही प्राथमिकता में रखा. इस दौरान वे रिलायंस नेटवर्क के लिए एक कार्यक्रम तैयार कर रहे थे.

दूसरी खबर है कि सहारा मीडिया के नार्थ हेड अजय शर्मा जिनका तबादला जाते जाते उपेंद्र राय ने बंगलुरू के लिए कर दिया था, उन्‍हें स्‍वतंत्र मिश्र ने फिर से वापस उसी पद पर बुला लिया गया है. अजय अब फिर से नार्थ को हेड करेंगे. इससे अब माना जाने लगा है कि सहारा में अब उपेंद्र राय का साम्राज्‍य कमजोर पड़ने लगा है. उपेंद्र के समय में हावी रहने वाली राय लाबी अब बैकफुट पर है. उपेंद्र के समय में दबी-कुचली ब्राह्मण लाबी स्‍वतंत्र मिश्र के सहारा मीडिया के हेड बनने के साथ ही अपने फार्म में आ गई है.

जिस तरह से स्‍वतंत्र मिश्रा ने उपेंद्र राय के फैसले को पलटते हुए कुछ दिन के भीतर ही अजय शर्मा को फिर से नार्थ का हेड बना दिया है. वह उपेंद्र राय की घट चुकी ताकत बताने के लिए काफी है. इसके साथ ही स्‍वतंत्र मिश्र ने उपेंद्र के समय में उड़ने वाले लोगों पर शिकंजा कसने की तैयारियां शुरू कर दी है. कब किस पर पंजा लग जाए किसी को खबर नहीं है. राय लाबी पूरी तरह से दुबकी हुई है. इसके साथ ही सहारा के भीतर एक बार फिर से उठापटक और बदलाव का दौर तेज होने वाला है, परन्‍तु धीरे-धीरे. भले ही उपेंद्र राय को सहारा मीडिया का ग्‍लोबल हेड बना दिया गया हो तथा स्‍वतंत्र मिश्र को उपेंद्र को ही रिपोर्ट करने की बात कही गई हो, परन्‍तु अभी तक जो रिपोर्ट कार्ड दिख रहा है, उसमें तो उपेंद्र राय कहीं से पास होते हुए नहीं दिख रहे हैं, जबकि स्‍वतंत्र मिश्र डिस्टिंक्शन ला रहे हैं.


AddThis
Last Updated ( Thursday, 14 July 2011 20:43 )