जीएनएन न्यूज से तीन और के इस्तीफा देने की चर्चा

E-mail Print PDF

: अपडेट : जीएनएन न्यूज के सीईओ राघवेश अस्थाना और उनके करीबी तीन वरिष्ठों के इस्तीफे के बाद कई अन्य पत्रकारों के भी इस्तीफे की चर्चा है. अभी-अभी मिली अपुष्ट सूचना के अनुसार अभिजीत सिन्हा (एसोसिएट प्रोड्यूसर इनपुट), नितिन श्रीवास्तव (इनपुट हेड) और कुमार संभव (प्रोड्यूसर इनपुट) ने भी इस्तीफा दे दिया है. बताया जा रहा है कि पांच अन्य लोग भी हैं जिन्होंने इस्तीफा दिया है पर इनके नाम व पद का पता नहीं चल सका है.

सूत्रों के मुताबिक वे लोग जो राघवेश अस्थाना के बेहद करीबी थे, उनके जाने के बाद इस्तीफा दे रहे हैं. इस्तीफा देने वाले एक पत्रकार ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि सेलरी संकट और छंटनी के दबाव से आजिज आकर सीईओ पद से राघवेश अस्थाना ने इस्तीफा दिया है और उनके समर्थन में करीब दर्जन भर लोगों ने संस्थान को बाय बाय बोला है. राघवेश अस्थाना के साथ एसोसिएट एडिटर वीएन झा, आउटपुट हेड मधुकांत श्रोतिया और प्रोग्रामिंग हेड श्रीनिवास ने इस्तीफा दिया. अब तीन और लोगों अभिजीत सिन्हा, नितिन श्रीवास्तव और कुमार संभव के इस्तीफे की खबर आई है. इस तरह इस्तीफा देने वालों की संख्या सात हो चुकी है.

राघवेश खेमे के लोगों का कहना है कि पांच अन्य लोगों ने भी इस्तीफा दिया है पर उनके नाम पता नहीं चले हैं. उधर, चैनल के ही कुछ लोगों का नाम न छापने की शर्त पर कहना है कि राघवेश अस्थाना जीएनएन न्यूज को सही दिशा में नहीं ले जा सके और ओवरस्टाफिंग करके प्रबंधन के निर्देशों का उल्लंघन किया. इसका खामियाजा उन्हें खुद भुगतना पड़ा है. साथ ही, चैनल में आंतरिक राजनीति चरम पर हो जाने और चैनल के दिशाहीन व अराजक हो जाने के कारण प्रबंधन को राघवेश के खिलाफ कार्रवाई को मजबूर होना पड़ा.

ताजी स्थिति : चैनल की तरफ से बताया गया है कि अभी सिवाय दो लोगों के, किसी का भी इस्तीफा नहीं हुआ है. सीईओ राघवेश अस्थाना किसी वजह से आफिस से चले गए जिसके बाद अफवाह उड़ गई कि उन्होंने इस्तीफा दे दिया है. ऐसी कोई बात नहीं है. प्रबंधन राघवेश अस्थाना से संपर्क में है और यथाशीघ्र सारी स्थितियों का हल निकाल लिया जाएगा. चैनल से जिन जिन लोगों के जाने की बात कही जा रही है, उनमें से दो को छोड़कर बाकी किसी का इस्तीफा एचआर के पास नहीं पहुंचा है.


AddThis
Comments (6)Add Comment
...
written by anonymous, October 12, 2011
hahahahaha..... ye channel top 3 to kiya, worst 3 main v nhi gina jayega. Yeh ek fraud company hain, jaha salary lene k liye v bhikh mango ki tarah katar main to lagna hi padta hain, upar se thikana hi nhi hota ki slary kab milegi.
aap ne ap ko khub tees mar khan samajne wale log jo higher post main niyukt hain, unka to koi jawab hi nhi... sare channel jab live katte hain, GNN ke journalist mahasay log khane pine main hi buzy rahte hain. live karane k liya OB van tak nhi, ANi k bharose channel chala rahe hain sardar ji..... Aur Amitabh ji ka to kiya kahna, Big B ban k rekha ji ki yado main jo khoye rehte hain...... is channel ka burai ka list never ending hain, isiliye bas aaj k liye itna hi....
...
written by himanshu, July 29, 2011
channel me recruitment CEO nahi balki HR aur management karta hai aur waise bhi 200 log 2 channel (GNN News & GNN Bhakti) ke liye jyaada nahi hota..Raghwesh Asthana ji ne to 1 mahine se kam me strategically channel ko on-air bhi kar diya. aur himanshu priyedarshi ko GNN me laane ka matlab saaf hai ki ye channel frauds ki company hai aur unhe Himanshu jaisa koi scamster hi chahiye warna jis aadmi ko sahara me lakhon ke gaban karne ki wajah se maar maar kar nikaal diya tha use is channel me kyon laate...
...
written by ravi kumar, July 28, 2011
बर्बाद गुलिस्तां करने को सिर्फ एक ही उल्लू काफी है,हर शाख पे उल्लू बैठा है अंजाम-ए-गुलिस्तां क्या होगा।पिछले दिनों वरिष्ठ पत्रकार स्वर्गीय उदयन शर्मा पर एक सेमिनार में सूचना प्रसारण मंत्री अंबिका सोनी पत्रकारों को बड़ी नसीहतें दे रही थी।जीएनएन और पी7 न्यूज जैसे तमाम चैनलों की इस हालत पर वो खामोश क्यों हैं।जनता को लूट-लूटकर अपना कारोबार चमकाने वाले चिटफंडियों को चैनल खोलने का लाइसेंस किसने दिया।अंबिका सोनी बताएं कि उन्हें इन पत्रकारों की हालत पर तरस क्यों आता।होना तो ये चाहिए कि सूचना प्रसारण मंत्रालय या तो इन चैनलों का लाइसेंस फौरन कैंसल करे या फिर जिन पत्रकारों को बाहर का रास्ता दिखाया गया है उन्हें नौकरी पर फिर से बहाल किया जाए।आखिर इन चिटफंडियों की ये गुंडागर्दी कब तक चलेगी..?
...
written by rajivkumar, July 28, 2011
logo ko bebkuph banane ka kam asthana ji ne kiya.unke jate hi salari mil gyi.or ab log man laga kar kam kar rahe hai.wo din bhi dur nahi jab channel accha karega.
...
written by jasvinder singh sabharwal, July 27, 2011

Everything is OK...............I m regular seen the news on GNN channel.

This channel is very good. I m hundred percent sure................top 3 news channel within 1 years.
...
written by amarnath, July 26, 2011
ताजी स्थिति hi sahe hai ..

Write comment

busy
Last Updated ( Monday, 25 July 2011 23:29 )