न्‍यूज एक्‍सप्रेस से पॉलिटिकल एडिटर श्‍याम सुन्‍दर एवं प्रोग्रामिंग हेड पुनीत कुमार का इस्‍तीफा

E-mail Print PDF

न्‍यूज एक्‍सप्रेस को लांच हुए अभी एक सप्‍ताह भी नहीं बीता है, परन्‍तु वरिष्‍ठ लोगों के इस्‍तीफा देने का सिलसिला शुरू हो गया है. न्‍यूज एक्‍सप्रेस से पॉलिटिकल एडिटर श्‍याम सुन्‍दर एवं सीनियर डिप्‍टी ईपी पु‍नीत कुमार ने इस्‍तीफा दे दिया है. सूत्रों का कहना है कि दोनों लोगों ने अपना इस्‍तीफा आंतरिक राजनीति से क्षुब्‍ध होकर दिया है.

श्‍याम सुन्‍दर वरिष्‍ठ पत्रकार हैं तथा न्‍यूज एक्‍सप्रेस से जुड़ने से पहले न्‍यूज एजेंसी आईएएनएस के कंसलटेंट थे. श्‍याम सुन्‍दर लम्‍बे समय से बीबीसी से जुड़े रहे हैं. बीबीसी से संजीव श्रीवास्‍तव जब इस्‍तीफा देकर सहारा पहुंचे थे, तब श्‍याम सुन्‍दर भी बीबीसी से सहारा आ गए थे. सहारा से संजीव श्रीवास्‍तव के इस्‍तीफा देने के बाद इन्‍होंने भी सहारा को अलविदा कह दिया था. श्‍याम सुन्‍दर की पॉलिटिकल खबरों पर बेहतर पकड़ है. इस्‍तीफा के संदर्भ में पूछे जाने पर श्‍याम सुन्‍दर ने कहा कि बेहतर विकल्‍प मिलने के चलते उन्‍होंने यह फैसला लिया है. उन्‍होंने चैनल हेड मुकेश कुमार के साथ अपने काम के अनुभव को शानदार तथा बेहतर बताया. उन्‍होंने अपना इस्‍तीफा देने की पुष्टि की.

सीनियर डिप्‍टी एक्‍जीक्‍यूटिव प्रोड्यूसर कम प्रोग्रामिंग हेड पुनीत कुमार ने भी इस्‍तीफा दे दिया है. पुनीत कुमार को प्रोग्राम का मास्‍टर माना जाता है. वे लम्‍बे समय तक सहारा समय के साथ जुड़े रहे हैं. वे जी न्‍यूज के उस शुरुआती कोर टीम के सदस्‍य रहे हैं, जब जी टीवी के नाम से बुलेटिन का प्रसारण होता था. वे टीवीआई तथा दूरदर्शन के साथ भी लंबे समय तक कार्यरत रहे हैं. इस्‍तीफा के संदर्भ में पूछे जाने पर उन्‍होंने कहा कि मुझे जो जिम्‍मेदारी दी गई थी, उसे मैं ने पूरा कर दिया है. अब चैनल लांच हो गया है तथा मैंने प्रबंधन के नजरिए के अनुसार चीजे सेट कर दी हैं. अब मेरे लिए वहां कुछ नहीं था, लिहाजा रुकने का कोई कारण नहीं था. प्रबंधन ने पुनीत कुमार का इस्‍तीफा अभी स्‍वीकार नहीं किया है.

हालांकि अंदरखाने की जो खबर है वह यह है कि यहां पर ग्रुप बन गए हैं,  जो काम से ज्‍यादा राजनीति में दिलचस्‍पी लेते हैं. इसी ग्रुप के कारण लांचिंग से पहले प्रोड्यूसर कृष्‍ण कुमार कन्‍हैया ने भी यहां से इस्‍तीफा दे दिया था. इन लोगों के चलते न्‍यूज एक्‍सप्रेस में काम का माहौल नहीं बन पा रहा है. ये ग्रुप चैनल हेड के विश्‍वास को भी तोड़ने में जुटा हुआ है. जिन लोगों के सहारे न्‍यूज एक्‍सप्रेस को आगे बढ़ना था, वो सीनियर ही चैनल को एक-एक कर अलविदा कहते जा रहे हैं. इन दो वरिष्‍ठों का जाना चैनल के लिए झटका माना जा रहा है. इसके पहले इंवेस्‍टीगेशन हेड रजत अमरनाथ भी स्‍वास्‍थ्‍य कारणों से इस्‍तीफा दे चुके हैं.  श्‍याम सुन्‍दर एवं पुनीत कुमार के इस्‍तीफा देने की पुष्टि चैनल हेड मुकेश कुमार ने भी की.


AddThis
Last Updated ( Thursday, 04 August 2011 10:30 )