'सर्वाधिक भ्रष्‍टाचार' लिखने पर पत्रिका ने राधेश्‍याम धामू की सेवा समाप्‍त की

E-mail Print PDF

पत्रिका, इंदौर से राधेश्‍याम धामू की सेवाएं समाप्‍त कर दी गई हैं. राधेश्‍याम इंदौर में संपादकीय पेज देखते थे. धामू को अखबार से निकाले जाने की सूचना पत्रिका के 31 अगस्‍त के प्रथम पेज पर प्रकाशित की गई है. इस सूचना में बताया गया है कि धामू ने पत्रिका की रीति नीति से परे जाकर लेखन किया जिसके चलते उनकी सेवाएं समाप्‍त की जा रही हैं. धामू काफी समय से पत्रिका को अपनी सेवाएं दे रहे थे.

धामू ने अखबार के प्रसंगवश कॉलम में 'सर्वाधिक भ्रष्‍टाचार' शीर्षक से एक टिप्‍पणी लिखी है. पत्रिका प्रबंधन का कहना है कि धामू ने इस खबर में अपने व्‍यक्तिगत विचार लिख दिए हैं, जो पत्रिका के स्‍वभाव से मेल नहीं खाता है. इसमें लिखे गए शब्‍द मर्यादित नहीं हैं, पत्रिका हमेशा अपनी राय निष्‍पक्ष और निर्भीक तरीके से रखती आई है, लेकिन इस तरह के भाषा के इस्‍तेमाल के पक्ष में कभी नहीं रही. लिहाजा प्रबंधन इसे गंभीर मानते हुए राधेश्‍याम धामू की सेवाएं समाप्‍त करती है.


AddThis
Last Updated ( Thursday, 01 September 2011 12:52 )