महुआ, पटना में उथलपुथल, शक्ति प्रकाश बने नए ब्‍यूरोचीफ, प्रवीण बागी छुट्टी पर भेजे गए

E-mail Print PDF

: अशोक मिश्र ने दिया इस्‍तीफा : कुलभूषण भी फोर्स लीव पर : महुआ टीवी, पटना से खबर है कि शक्ति प्रकाश को नया बयूरोचीफ बनाया गया है. वे पटना में ही सहारा को अपनी सेवाएं दे रहे थे. निवर्तमान ब्‍यूरोचीफ प्रवीण बागी, कुलभूषण एवं अशोक मिश्र को जबरिया लंबी छुट्टी पर भेज दिया गया. नाराज अशोक ने प्रबंधन को इस्‍तीफा सौंप दिया है. अब बिहार में महुआ की जिम्‍मेदारी शक्ति प्रकाश ही संभालेंगे.

महुआ अपने पुराने इतिहास को दुहराते हुए पत्रकारों को दूसरे चैनलों से लाए इन तीनों पत्रकारों को एक बार फिर मझधार में छोड़ दिया है. सचमुच में यह चैनल अपने नाम के अनुरूप तो मालिक अपने नाम के अनुरूप कार्य करते हैं. अंशुमान तिवारी के समय में पटना की जिम्‍मेदारी पहले ओम प्रकाश के पास थी, गौतम मयंक को भी ब्‍यूरोचीफ बनाया गया, फिर मृत्‍युंजय ठाकुर को बैठाया गया, इसके बाद ईटीवी से आए प्रवीण बागी को ब्‍यूरोचीफ बना दिया गया. अब स्थिति यह है कि पहले तीन लोगों को जहां बाहर का रास्‍ता दिखा दिया गया वहीं इस बार प्रवीण बागी को लम्‍बी छुट्टी पर भेज दिया गया है.

सूत्रों ने बताया कि लम्‍बी छुट्टी पर भेजे जाने से नाराज अशोक मिश्र ने तो अपना इस्‍तीफा भी प्रबंधन को सौंप दिया है. वे अपनी नई पारी कहां से शुरू करेंगे इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है. प्रवीण बागी एवं कुलभूषण भी अपने साथ अपनाए गए रवैये से खुश नहीं हैं. सूत्रों का कहना है कि वे फिलहाल तो छुट्टी पर चले गए हैं, परन्‍तु उन लोगों ने नए ठिकाने की तलाश शुरू कर दी है. महुआ प्रबंधन का यह रवैया बिहार के मीडिया जगत में चर्चा का विषय बना हुआ है. महुआ के इतिहास को देखें तो लांचिंग के बाद सबसे ज्‍यादा लोगों को इसी चैनल ने बाहर का भी दिखाया है.

प्रवीण महुआ में आने से पहले ईटीवी के साथ जुड़ हुए थे. उन्‍हें चैनल हेड बनाए गए संतोष पाण्‍डेय लेकर आए थे परन्‍तु महुआ प्रबंधन ने उनके साथ भी घिनौना और गंदा खेल खेला. महुआ को ब्रांड बनाने वाले अंशुमान तिवारी के साथ भी पीके तिवारी एंड फैमिली ने यही रवैया अपनाया. ओपी सिंह के साथ भी ऐसा ही बरताव किया गया. अब नए हेड लोगों के साथ प्रबंधन की कब तक निभती है देखने वाली बात होगी. फिलहाल तो यहां सब फीलगुड ही हो रहा है. खबर है कि बिहार में महुआ के स्ट्रिंगरों का भी कई महीने का पैसा बकाया है, परन्‍तु मैनेजमेंट आज कल किए हुए है.


AddThis
Comments (15)Add Comment
...
written by DESUJA.Patna, September 24, 2011
PK TIWARI BAHUT SAUKHIN ADMI HAI.USKE LEYE JO INTJAM NAHI KAREGA USHE TO JANA HI HAI.RANA AUR BHUPPI PICHLIBAR PATNA AAYE THE TO UNHO NE KEYA -KEYA KIYA, UNSE MILNE KAUN-KAUN AYE, ISKA KHULASA HO JAYE TO SABKI IJJAT NILAM HO JAYEGI.HOTAL PATLIPUTRA AUR HOTAL CHANAKYA MAIN KISNE KAYA INTJAM KIYA, ANCHOR BAHALI KE NAAM PER LARKIYO KO BULA KAR KEYA KHEL KHELA GAYA YAHE PATNA KE PATRKARO KO PATA HAI.TIWARI JI SE MAURYA HOTAL MAIN KAUN MILE ISKI V CHARCHA HAI.STRINGRO KA PAISA 6 MONTH SE TIWARI JI NAHI DE RAHE HAI. MAMLA AB LEBOUR COURT MAIN JANE WALA HAI.
TIWARI KI "CHABI" KAISE HAI YAH SAB KO PATA HAI, PHIR V LOG USKE CHAKKAR MAIN AA JATE HAI.

...
written by abs pande, September 12, 2011
yashvant jee, aap media ke dalalon ko har samay expose kar patrakarita ka bhala keya hai. mahaa news ke leye bhi apko abhiyan chalana chaheye. nahi to kuchh dalal kism ke noida me baithne bale patrakarita ko kha jayega.
ab main apko mahuaa news patna ka hal batata hun. is chennel ke patan office me ek dalal hai. wah rana ke leye dalali karta hai. sab ko malum hai ki iss share huye channel ko 7 number se bagi kee team ne number ek tak pahunchaya. lekin rana ke dalal ke issare par pk tewari ne 3 bhale patrakar ko baijaat keya. patna ka iss dalal ko jo haal hai isse lagta hai ki wah dalal jald hi tewari ka patna me buda hal kar dega. longo ko malum hai kee bagi kee team ko hatane ke leye patna se noida tak rana ke dalal team ne tewari jee ko kaise gaflat me dala hai. samay batayega kee iss chanel ko ab koi achha admi kam se kam patna me to nahi milnewal hai.
...
written by aman soni, September 06, 2011
पटना से प्ररसारित होने वाले सभी क्षेत्रिए चैनलों के अंदरखाने की गंदगी और गंदी साजिश ने कई लोगों को स्थानीय स्तर पर मीडिया की खबर देने वाले ब्लाग खोलने को अभिप्रेरित किया। एकाध बाहर से संचालित होने वाले चैनलों को छोड़ दिया जाए तो बाकी चैनलों के मालिकान कोई न कोई धंधा चलाते हैं। कई तो इसकी आड़ में अपने काले धन को सफेद करने में लगे हैं। महुआ चैनल से एकाएक किसी को निकालकर उसे सड़क पर ला देना यह पीके तिवारी एंड कपंनी को शोभा नहीं देता। एक अच्छे चैनल में इस प्रकार के फैसले चैनल को प्रभावित करते हैं।
...
written by arvind pathak, September 06, 2011
mahua me niche se lekar upar tak sab ke sab mahua pikar mast rahte hai tabhi kaam karnewalo ko hata kar dalalo or chapluso ko rakhte hai or isme upar baithe kuch pakke chapluso ka haath hai. chalo koi baat nahi hai kyoki ab news channel ke malik hi nahi soch sakte to bakiyo ka kya
...
written by anupnarayan singh, September 05, 2011
om parkas par arop laganiwalai k saroj ji aapnai apna kacha chitha kyu nahi khola hai
...
written by Deepak Kumar, September 04, 2011
वैसे ओमप्रकाश, गौतम मयंक, प्रवीण बागी, अशोक मिश्रा सभी एक ही कार्यशैली के लोग थे....अगर महुआ में इनकी परिणति एक जैसी हुई है...तो आश्चर्य कैसा.....
...
written by rahul, September 04, 2011
gambhir visya hai'
...
written by Vikas , September 04, 2011
Purniya - To Shudhy likhate --- mere dost - vaise mai Purniya ka sahi SPAL batata hu .. Agr agli Baar Jab Mere Naam Se Comment Doge To ise Sudhar Lena --Aise Hota Hai --- Purnea..--- .aage ke liye yaad rakhana ---
...
written by kumar saroj , September 04, 2011
महुआ का पूर्व प्रभारी ओपी (ओम प्रकाश) अव्वल दर्जे का दलाल था। उसी ने चैनल की गलत नींव डाली। महुआ के लाखों रुपए खा गया। स्ट्रिंगरों का पैसा भी पचा गया। पटना में लाखों का घर खरीदा। भाई को बिजली बोर्ड में नौकरी लगाई। कई धंधे उसने खोल रखे हैं पटना में। श्याम रजक की दलाली करता है। अभी इंडिया न्यूज में बैठा है। उसका भी वहीं हाल करेगा। ओपी जैसे लोग पत्रकारिता के नाम पर काला धब्बा हैं जिसे मिटा देना चाहिए। पवन शांडिल्य ने एक बार गांधी मैदान में उसकी अच्छी ठोकाई की थी। इसके अलावा अपनी आदत से बाज नहीं आने के कारण वह कईयों के हाथों मार खाकर थेथर हो चुका है। जिस गुंजन सिन्हा ने उसे आगे बढ़ाया उसी की जड़ उसने खोद डाली। उसकी पोल खुल चुकी है इसलिए अब दिल्ली में उसने अपना धंधा फैलाना शुरू कर दिया है। चंद पैसे के लिए वह किसी के सामने अपनी पतलून उतार सकता है।
...
written by sudhir, September 04, 2011
तिवारी जी आंखे खोलिए सबसे पहले उस नाग ( राणा ....) को ही बाहर का रास्ता दिखाइए जो आपके चैनल को लगातार बर्बाद करने पर तुला हुआ है। छोटे और मेहनती लोगों के पेट पर क्यों लात मारते हो....
...
written by lily priyamvada, September 04, 2011
aanan fanan me bureau chief ko hatana dena chnnel ke liye shubh sanket nahi....
...
written by anis, September 04, 2011
om prakash 19 mahina , mrityunjay 7 mahina , pravin bagi 9 mahinaa ab bari hai shakti ki ............. kitan din tikte hai yah badi baat hai ....
...
written by vikas Ojha, September 03, 2011
Vikas Ojha , Purniya
mahuaa me kam karne ka yahi Inam milta hai , na ghar ka ghat ka !
...
written by R.R.K, September 03, 2011
महुआ channel जल्द ही बंद हो जायेगा अगर अपने योग्य कर्मचारियों को हटाते रहा तो ... हम stringer को रोज पैसे के लिए आज कल कहता है अकाउंट में बैठा मनोज ,, लेकिन पैसा के नाम पर ठगा जा रहा है हम जैसे निरीह stringer को ... हम सभी हरताल पर जाने कि तैयारी में है .. और जल्द ही महुआ में ताला लटकने वाला है , एक तो पैसा नहीं देता है और ऊपर से पैसा मांगने पर हटा देने कि धमकी देता है महुआ में दिल्ली में बैठे लोग ..
...
written by ANKUR KUMAR, KATIHAR, September 03, 2011
उन लोगो ने ओम प्रकाश को हटाया !!!! मै चुप था !!! क्योकि मै ओम प्रकाश से जुरा हुवा नहीं था !!

फिर उन लोगो ने गौतम मयंक को हटाया !!!! मै चुप था !!! क्योकि मै गौतम मयंक से जुरा हुवा नहीं था !!

फिर उन लोगो ने मृत्‍युंजय ठाकुर को हटाया !!!! मै फिर भी चुप था !!! क्योकि मै मृत्‍युंजय ठाकुर से जुरा हुवा नहीं था !!

फिर उन लोगो ने प्रवीण बागी को हटाया !!!! मै फिर भी चुप रहा !!! क्योकि मै प्रवीण बागी से जुरा हुवा नहीं था !!

फिर उन लोगो ने मुझे हटाया !!!! !!! और जब मैंने पलट कर पिछे देखा !!!!! तो कोई नहीं था

मिडिया प्रबंधको कि मनमानी का हम सभी मिडियाकर्मियों को मिलकर विरोध करना चाहिए !!!!!!!
मै तो कहूँगा विरोध नहीं विद्रोह करना चाहिए क्योकि यदि हम ऐसा नहीं करेंगे तो कल यही हाल हमारा होगा ...
इन पंग्तियो को याद करो

खिचो न कमान न तलवार निकालो !
जब मुकाबला हो तोप मुकाबील !!
तो अखवार निकालो !!!

Write comment

busy
Last Updated ( Saturday, 03 September 2011 12:15 )