पत्रिका, ग्‍वालियर से इस्‍तीफा देकर अवधेश, मनोज एवं मयंक दूसरे ठौर पर पहुंचे

E-mail Print PDF

पत्रिका, ग्‍वालियर से तीन लोगों ने इस्‍तीफा दे दिया है. इसमें दो ने हिंदुस्‍तान और एक ने भास्‍कर का दामन थामा है. पत्रिका से इस्‍तीफा देने वाले अवधेश गुप्‍ता ने इंदौर में दैनिक भास्‍कर के साथ अपनी नई पारी शुरू की है. जबकि मनोज शर्मा और मयंक चतुर्वेदी ने बरेली में हिंदुस्‍तान ज्‍वाइन कर लिया है. भड़ास ने पहले ही खुलासा किया था कि सेलरी मिलते ही चार लोग पत्रिका को गुड बाय कर देंगे.

चौथे रिपोर्टर को भी भास्‍कर के साथ ही अपनी नई पारी शुरू करनी थी, परन्‍तु सेलरी को लेकर अंतिम समय में बात फंस गई, जिसके बाद उन्‍होंने भास्‍कर जाने का विचार त्‍याग दिया. अब वे पत्रिका को ही अपनी सेवाएं देंगे. इसके साथ ही पत्रिका, ग्‍वालियर में जाने वालों को लेकर लगाया जा रहा कयास भी खतम हो गया है.


AddThis
Comments (3)Add Comment
...
written by kapil, September 15, 2011
news today se bhi ek istfa ho gaya hai. vishvnathsingh dabag ke ho gaye hain. uski salry 6000 thi. is sal nahi badi. jabki 25-25 hazar salary wale log daftar main baithkar 5-5 ghante cheting kar rahe hai. unki sehat par koi farak nahi padta.
...
written by बिल्‍लू, September 09, 2011
पत्रिका पारिवारिक गुलाब कोठारी एवं निहार कोठारी कंपनी है। कच्‍चे कान और बंद आंखों के चापलूसी फौज के सेनापति हैं1एमपी में डूबने के चांस ज्‍यादा है। भास्‍कर यदि थोडा जोर लगा दें तो पत्रिका का बैंड बज सकताहै। नर्मदा में समाधि तक करें इंतजार।
...
written by sanjay shukla, September 08, 2011
patrika manegment jo bartao patrkaro ke satth karta hai usse ka nateza hai ke har taraf se esstefa ho raha hai. chahe mamla indore ka ho ya fir jabalpur ya gwalior ka ho...ye apne karmachareo ko nukar samajte hai...patrika manegment ne ager jald he rajesthan se bheje gaye apne kam padhe likhe editoro par lagam nahi lagaye to iska bhe hall navbharat aur raj express jaise hone me time nahi lagega. sare sampadak paglo jaisa bartao karte hai. jabalpur sampadak to pura pagal hai....gulab kothare ji ab to jag jao nahi to dub jaoge MP me.

Write comment

busy