हिंदुस्‍तान, मुरादाबाद के यूनिट हेड योगेन्‍द्र सिंह तथा संपादक मनीष मिश्रा बनाए गए

E-mail Print PDF

हिंदुस्‍तान अब यूपी में अपने विस्‍तार की तैयारियां तेज कर दी है. अलीगढ़ के बाद अब मुरादाबाद यूनिट के लिए भी वरिष्‍ठों की टीम तय कर दी गई है. इस यूनिट का हेड योगेन्‍द्र सिंह को बनाया गया है. योगेन्‍द्र फिलहाल बरेली में हिंदुस्‍तान से जुड़े हुए हैं. इस यूनिट का संपादकीय प्रभारी हिंदुस्‍तान, नोएडा के एनई मनीष मिश्रा को बनाया गया है. मनीष पिछले तीन सालों से हिदुस्‍तान के साथ जुड़े हुए हैं. 20 सितम्‍बर से दोनों लोग अपनी जिम्‍मेदारियां संभाल लेंगे.

हिंदुस्‍तान प्रबंधन पिछले काफी समय से अलीगढ़ तथा मुरादाबाद यूनिट के लांचिंग की तैयारी कर रहा था. अलीगढ़ यूनिट के लिए उसने अपनी टीम घोषित कर दी थी. दीपक चौहान को यूनिट हेड तथा मनोज पमार को संपादकीय प्रभारी. मुरादाबाद यूनिट के इसी महीने की दो तारीख को भूमि पूजन भी किया गया है. यहां के लिए यूनिट हेड बनाए गए योगेन्‍द्र सिंह फिलहाल हिंदुस्‍तान, बरेली में एजीएम सेल्‍स के पद पर कार्यरत है. वे काफी समय से हिंदुस्‍तान से जुड़े हुए हैं.

मुरादाबाद का संपादकीय प्रभारी बने मनीष मिश्रा लगभग 18 सालों से सक्रिय पत्रकारिता में हैं तथा तेजतर्रार पत्रकार माने जाते हैं. वे जागरण के साथ एक दशक से ज्‍यादा समय तक जुड़े रहे. अमर उजाला को भी वरिष्‍ठ पदों पर सेवाएं दीं. 2008 में उन्‍होंने मेरठ में हिंदुस्‍तान ज्‍वाइन कर लिया था. फिर उन्‍हें हिंदुस्‍तान, नोएडा का एनई बना दिया गया था. हालांकि मनीष मिश्रा से पहले इस यूनिट के लिए हिंदुस्‍तान, बरेली में तैनान एनई योगेन्‍द्र सिंह रावत के नाम की चर्चा थी.


AddThis
Comments (7)Add Comment
...
written by Amit kumar, September 18, 2011
kyo rawat ji. ye coment khud dalwa rahe ho lekin sabhi jaante hai ki tumse bada chutiya koi dusra nahi hai. bareilly waale tumhe chutia no. 1 galat nahi kahte hai,,,,,,,,,,,,,,,,,,
...
written by ashok singh, September 18, 2011
smilies/smiley.giffda
...
written by nirmal Uttrakhandi, September 17, 2011
Mr. Yogender Rawat and Mr. Manoj parmar are Novel and intelligent persons. We are proud of both and wishes all the best for Yogendraji and manojji. Lage raho....
...
written by shail, September 16, 2011
rawat ji ek yogy vyakti hain...unhen koi bhi jimmedaari di sakti hai. lekin manish ji ko editor- in- charge banane ka matlab ye nahi hai ki rawat ji ka kad chota ho gaya.
...
written by Manoj Tyagi, September 16, 2011
Congts! Yogendra Bhai
...
written by ashok kumar singh, September 15, 2011
योगेन्द्र रावत तो इस काबिल ही नहीं है कि उसे किसी यूनिट का सम्पादक बनाया जाए. वह बरेली में एन ई है यही बहुत है सब जानते है कि वह कैसे यहाँ तक पहुचे है. संपादको कि जी हुजूरी करके ही एन ई का पद हासिल हो सका है. भड़ास पर सम्पादक बनने की खबर भी उन्होंने खुद ही डलवाई थी ताकि ऊपर बैठी लोगो को उनका नाम सूझ जाए लेकिन रावत जी तुम खुद ही सोचो कि चूतिये भी कभी सम्पादक बनते है....................
...
written by dd, September 15, 2011
rawat to samvad sutra banne layak nahi hai editor bana to samjho kaam ho gaya hindustan kaa

Write comment

busy
Last Updated ( Saturday, 17 September 2011 12:11 )