प्रभात खबर, भागलपुर संकट में : संपादक का तबादला, एनई समेत चार का इस्‍तीफा

E-mail Print PDF

भागलपुर में प्रभात खबर से मात खाने के बाद हिंदुस्‍तान अब सीधी लड़ाई में उतरता दिख रहा है. हिंदुस्‍तान प्रभात खबर के लोगों को ही तोड़कर अपने साथ जोड़ने में लगा हुआ है. प्रभात खबर में भागमभाग जैसी स्थिति बन गई है. कई लोगों ने अखबार को अलविदा कह दिया है. सबसे बड़ी खबर है कि भागलपुर के स्‍थानीय संपादक चंदन शर्मा का तबादला रांची के लिए कर दिया गया है. फिलहाल उन्‍होंने रांची ज्‍वाइन नहीं किया है. वे छुट्टी पर चल रहे हैं.

समाचार संपादक अजीत सिंह ने भी इस्‍तीफा दे दिया है. अभी उनकी कहीं ज्‍वाइनिंग नहीं हुई है. सिटी चीफ प्रसन्‍न सिंह प्रभात खबर छोड़कर हिंदुस्‍तान चले गए हैं. बांका के जिला प्रभारी संजय सिंह ने भी हिंदुस्‍तान ज्‍वाइन कर लिया है. डेस्‍क पर तैनात सफदर मोबिन भी यहां से इस्‍तीफा देकर लखनऊ में आई-नेक्‍स्‍ट ज्‍वाइन कर लिया है. खबर है कि कई अन्‍य प्रभात खबरियों के साथ हिंदुस्‍तान प्रबंधन संपर्क में है. कुछ और लोग प्रभात खबर को नमस्‍कार कर सकते हैं.

गौरतलब है कि भागलपुर में प्रभात खबर की लांचिंग के समय राघवेन्‍द्र को स्‍थानीय संपादक बनाया गया था तथा उनको अखबार लांच कराने की जिम्‍मेदारी सौंपी गई थी. लांचिंग से पहले ही राघवेन्‍द्र ने इस्‍तीफा देकर भास्‍कर ज्‍वाइन कर लिया. इसके बाद चंदन शर्मा को प्रभात खबर, भागलपुर का स्‍थानीय संपादक बनाया गया. चंदन शर्मा के नेतृत्‍व में प्रभात खबर की धमाकेदार लांचिंग हुई तथा प्रभात खबर ने जल्‍द ही भागलपुल में हिंदुस्‍तान तथा दैनिक जागरण को पछाड़ते हुए नम्‍बर एक की कुर्सी पर कब्‍जा जमा लिया. इसके बाद हिंदुस्‍तान ने इस टीम को ही तोड़ने की रणनीति तैयार कर ली.

इस संदर्भ में चंदन शर्मा से बात की गई तो उन्‍होंने कोई भी टिप्‍पणी करने से इनकार कर दिया. जब भड़ास की तरफ से प्रभात खबर के कारपोरेट एडिटर राजेन्‍द्र तिवारी से बात की गई तो उन्‍होंने भी कोई कमेंट करने से मना कर दिया.


AddThis
Last Updated ( Thursday, 22 September 2011 17:41 )