अमर उजाला धर्मशाला के एडिटोरियल इंचार्ज का जम्मू तबादला, कई अन्य बदलाव

E-mail Print PDF

: राजेंद्र राज प्रिंसिपल करेस्पांडेंट बने, निशा शर्मा भी अमर उजाला से जुड़ीं, सुमेश ठाकुर का श्रीनगर से चंडीगढ़ तबादला :  चंडीगढ़ अमर उजाला के हरियाणा स्टेट ब्यूरो में राजेंद्र राज ने प्रिंसिपल करेस्पांडेंट के पद पर ज्वाइन किया है. राज पहले भी अमर उजाला में कई जगह काम कर चुके हैं. ये अभी चंडीगढ़ में हरियाणा का स्टेट ब्यूरो संभाल रहे थे. वे दैनिक भास्कर, चंडीगढ़ में और भास्कर के ही हरियाणा ब्यूरो में काम कर चुके हैं.

उधर, पंजाब केसरी, अंबाला में कार्यरत निशा शर्मा ने अमर उजाला, चंडीगढ़ में डेस्क पर ज्वाइन किया है. इसके पहले दैनिक भास्कर, पानीपत के रिपोर्टर जग महेंद्र ने वहीं पर अमर उजाला ज्वाइन किया. हरियाणा में अमर उजाला को मजबूत करने के अभियान के तहत चंडीगढ़ से ये नियुक्तियां हुई हैं. आगे कुछ दिनों में कई और लोगों के ज्वाइन करने की संभावना है. इसके लिए कई लोगों ने चंडीगढ़ में टेस्ट दिए हैं जिन पर फैसला होना अभी बाकी है.

एक अन्य सूचना के अनुसार अमर उजाला के श्रीनगर (जम्मू-कश्मीर) ब्यूरो प्रभारी सुमेश ठाकुर का तबादला चंडीगढ़ स्टेट ब्यूरो में किया गया है. बताया जाता है कि जम्मू के संपादक रवींद्र श्रीवास्तव के कारण ये पीड़ित थे और प्रबंधन को अपना इस्तीफा भेज दिया था. सूत्रों के मुताबिक मैनेजिंग डायरेक्टर राजुल माहेश्वरी ने सुमेश को नोएडा बुलाकर उनसे बातचीत की. उसके बाद उनका तबादला कर के चंडीगढ़ में हाईकोर्ट की रिपोर्टिंग में उन्हें लगा दिया गया. उधर, अमर उजाला, धर्मशाला के एडिटोरियल इंचार्ज राजेश राठौर का तबादला जम्मू में कर दिया गया है. उन्होंने डिप्टी न्यूज एडिटर के पद पर जम्मू में ज्वाइन कर लिया है.

हिमाचल में अमर उजाला की डेस्क अभी तक दो जगहों- धर्मशाला और शिमला में थी. पिछले महीने धर्मशाला से डेस्क के सभी लोगों का तबादला शिमला कर दिया गया. पर इसके बाबत धर्मशाला के प्रभारी राजेश राठौर को कोई सूचना नहीं दी गई. वे काफी दिनों तक वहीं छुट्टी पर रहे. उनको लेकर तरह तरह की चर्चाएं शुरू हो गई थी. सूत्रों का कहना है कि उन्हें अमर उजाला नार्थ रीजन के हेड उदय सिन्हा ने एमडी के पास नोएडा भेज दिया था. काफी दिनों तक राजेश राठौर को बरेली या गोरखपुर में रखने का मामला फंसा हुआ था. बाद में उदय सिन्हा के हस्तक्षेप के बाद राजेश राठौर को जम्मू में तैनाती मिली. राजेश राठौर जम्मू में पहले भी काम कर चुके हैं. राजेश के जम्मू में दुबारा ज्वाइन करने से कई तरह की कानाफूसी शुरू हो गई है. जम्मू के संपादक रवींद्र श्रीवास्तव नहीं चाहते थे कि राजेश राठौर वहां ज्वाइन करें. इसके बावजूद राजेश को वहां भेजा गया है.

उपरोक्त सूचनाएं भड़ास4मीडिया को मेल के जरिए मिली हैं. अगर तथ्यों में कोई कमी बेसी नजर आए तो नीचे दिए गए कमेंट बाक्स का सहारा लिया जा सकता है या फिर This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it पर सीधे मेल किया जा सकता है. अगर आपके भी संस्थान में कोई हलचल या उठापटक है तो हमें This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it पर मेल कर सकते हैं. सूचना देने वाले के नाम और पहचान का किसी हालत में खुलासा नहीं किया जाएगा. -एडिटर, भड़ास4मीडिया


AddThis
Last Updated ( Wednesday, 05 October 2011 19:00 )