पी7न्यूज में उथल-पुथल तेज, रमन से विवाद के बाद हटे राहिल

E-mail Print PDF

पीपी7न्यूज से खबर है कि आउटपुट हेड रमन पांडे से विवाद के बाद सीनियर वीडियो एडिटर राहिल चोपड़ा को दशहरा और दीवाली जैसे त्यौहार से ठीक पहले संस्थान से इस्तीफा देना पड़ा है. राहिल चोपड़ा इसके पहले एनडीटीवी और आजतक जैसे चैनलों में काम कर चुके हैं. खबर है कि पी7न्यूज में कई लोगों पर गाज गिराने की तैयारी है.

इसके अलावा इनपुट में कई नई भर्तियां हुई हैं. सहारा में सीनियर प्रोड्यूसर रहे गुरप्रीत सिंह ने एसोसिएट ईपी के रूप में ज्वाइन किया है. सूत्रों के मुताबिक वे अपने कुछ और लोगों को सहारा से पी7 में लाना चाहते हैं. इसके कारण इनपुट और आउटपुट से कुछ और लोगों को निकालने की तैयारी है. सूत्रों का कहना है कि चैनल की हालत लगातार खराब होने के कारण डायरेक्टर केसर सिंह को पीएसीएल कंपनी मैनेजमेन्ट की ओर से फिर अल्टीमेटम दे दिया गया है. इसीलिए पी7न्यूज में आजकल कुछ ज्यादा ही उथलपुथल है. पिछले कुछ समय में केसर सिंह ने चैनल की टीआरपी बढ़ाने के लिए कई प्रयोग किए, लेकिन चैनल अपना स्तर सुधार पाने में नाकाम रहा.

उल्टे लगातार ज्योतिष और दूसरे चैनलों से नकल कर तैयार किए कार्यक्रमों से चैनल की रही सही विश्वसनीयता भी दांव पर लग गई. इसके लिए जिम्मेदार आउटपुट हेड रमन पांडे और इनपुट हेड राजेश कुमार बताए जाते हैं. बीबीसी से आए एडिटर सतीश जैकब भी चैनल को चलाने के रवैये से खुश नहीं हैं. उन्होंने टॉ़प मैनेजमेन्ट को अपनी तरफ से सारी स्थितियों से अवगत करा दिया है. उधर, खबर है कि पी7न्यूज के महाराष्ट्र के स्ट्रिंगरों को सेलरी नहीं दी जा रही है. इससे पी7न्यूज की छवि पर असर पड़ रहा है. दीवाली और दशहरा जैसे त्योहार होने के बावजूद पी7न्यूज प्रबंधन अपने स्ट्रिंगरों को तयशुदा मानदेय नहीं दे रहा है.

एक पत्रकार द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित.


AddThis
Comments (3)Add Comment
...
written by पी-7 का पीड़ित पत्रकार , October 11, 2011
raman pandey ko news ki abcd bhi bhata nahin hain, na jane usake haath me kesar sing g ki koun si nas hai, jo gadhe ko dhone ko manboor hain. pbcl ke is channel ka bhavishya raman pandey aur rajesh kumar jaise logon ke rahate bantadhar hi hai. bhagvan kesar g aur satish jackob ji ko sadbudhhi de aur vo kisi kaam janane wale ko mouka den.
...
written by ravi kumar, October 10, 2011
पी7 से जब तक रमन को नहीं निकाला जाएगा तब तक हालात नहीं सुधरने वाले हैं।रामायण में कहा गया है- जाको प्रभु दारुण दुख दीनी..ताकी मति पहले हर लीनी..यानि वक्त खराब आने से पहले ईश्वर भी इंसान की बुद्धि को भ्रष्ट कर देता है।केसर सिंह पर ये चौपाई सही बैठती है।वो रमन को पाले हुए हैं, जो उनके भरोसे का लगातार कत्ल कर रहा है।इस चोर टाइप इंसान पर भरोसा करते-करते कहीं उनका ही राजपाट ना छिन जाए..केसर सिंह को ये वक्त रहते समझना होगा।उन्हें ये भी सोचना होगा कि सहारा से गबन के आरोप में निकाले गए राजेश कुमार जैसों से चैनल नहीं चलने वाला
...
written by raman, October 10, 2011
patrakarita sabse gandi chij hai isiliye bhai patrkar mat banna---pan dukan khol lo wo sahi kyownki isme wo hi hit hai jo channel head ka buttering karta hai--

Write comment

busy
Last Updated ( Wednesday, 12 October 2011 22:45 )