राहुल राजपूत यूपी न्‍यूज पहुंचे, सुशील का पंजाब केसरी से नाता टूटा

E-mail Print PDF

जनसंदेश न्‍यूज चैनल से राहुल राजपूत ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर एंकर कम एसोसिएट प्रोड्यूसर थे. उन्‍होंने अपनी नई पारी यूपी न्‍यूज के साथ शुरू की है. उन्‍हें यहां भी एंकर बनाया गया है. राहुल जनसंदेश के लांचिंग टीम के सदस्‍य थे. राहुल इसके पहले साधना न्‍यूज, हरियाली टीवी, साधना भक्ति और टीवी 100 को अपनी  सेवाएं दे चुके हैं. राहुल का जाना जनसंदेश के लिए झटका माना जा रहा है.

पंजाब केसरी, जालंधर से सम्‍बद्ध शिमला ब्‍यूरो से प्रभारी सुशील कुमार की छुट्टी हो गई है. उनकी जगह राजीव पत्‍थरिया को प्रभारी बना दिया गया है. राजीव ने अपना कार्यभार संभाल लिया है. बताया जा रहा है कि सुशील कुमार की कार्यशैली से नाराज प्रबंधन ने उनसे किनारा कर लिया है, वहीं सुशील कुमार के नजदीकियों का कहना है कि वे अभी भी संस्‍थान से जुड़े हुए हैं तथा छुट्टी पर चल रहे हैं.


AddThis
Comments (7)Add Comment
...
written by ankit, October 12, 2011
मुबारक हो राहुल भाई, जलने वाले जलते रहेंगे.............
...
written by sarup singh, October 12, 2011
ye dukan ek baar pehle bhi khul chuki hai aur band ho chuki hai dobara hi easa hi hone wala hai
...
written by Rohit, October 12, 2011
यशवंत जी कौन महारथी आपको ये आंकलन करके बताता है .... समझाइये तो सही कि राहुल का जाना जनसंदेश के लिये झटका है.... अरे झटका था जब जनसंदेश से दिनेश कांडपाल गए थे, जब आसिफ खान गए थे, और सबसे बाद में जब गौरव कौशिक सीएनईबी चले गए थे... जिस इन्सान को चैनल ढो रहा हो पर बस नौकरी लेने की ज़्यादती ना करना चाहता हो... या यूं कहिये कि दो बार चैनल से निकाल दिये जाने के बावजूद भी बेशर्मी से जो इन्सान टिका हो... उसका जाना झटका कैसे हो सकता है...?????
...
written by anand singh, October 11, 2011
बधाई राहुल बधाई हो...
...
written by ???? ????, ???? ?????, October 11, 2011
बधाई हो राहुल...
...
written by raj, October 11, 2011
rahul ka jana jansandesh ko jhatka nahi hai...balki up news ko bada jhatka hai.....bhagwan bachaye....
...
written by आनंद सिंह, ख़बर भारती, October 11, 2011
राहुल का जाना जनसंदेश के लिेए झटका ही माना जा सकता था...इसलिए नहीं की उनकी जगह कोई नहीं भर सकता बल्कि इसलिए की पिछले 3 साल से बतौर पत्रकार बिना रुके बिना थके वो अपनी सेवा दे रहे थे...ऐसे में राहुल का जाना जनसंदेश के लिए झटका ही माना जा सकता है..खैर राहुल को ढ़ेर सारी शुभकामनाएं...

Write comment

busy
Last Updated ( Wednesday, 12 October 2011 17:31 )