दैनिक भास्‍कर, धनबाद से चार लोगों ने दिया इस्‍तीफा

E-mail Print PDF

दैनिक भास्‍कर, धनबाद से सूचना है कि चार लोगों ने संस्‍थान को बाय बोल दिया है. ये लोग स्‍टेट हेड ओम गौड़ के रवैये से परेशान थे. चीफ सब के रूप में कार्यरत अंजय श्रीवास्‍तव यहां से इस्‍तीफा देकर हिंदुस्‍तान, पटना चले गए हैं. दूसरे चीफ सब एडिटर विकाश शुक्‍ला भी यहां से इस्‍तीफा देकर यूपी लौट गए हैं. विकास यूपी के ही रहने वाले हैं. उन्‍होंने कहां ज्‍वाइन किया है इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है. सब एडिटर मान सिंह भी विकास की तरह अपने प्रदेश में लौट आए हैं. वे भी यूपी के रहने वाले हैं. खबर है कि इन्‍होंने हिंदुस्‍तान ज्‍वाइन किया है.

वहीं डीबी स्‍टार में सब एडिटर के पद पर कार्यरत दीपक वर्मा भी यहां से इस्‍तीफा दे दिया है. वे प्रभात खबर जमशेदपुर से भास्‍कर, धनबाद गए थे. उन्‍होंने धनबाद में एक स्‍थानीय अखबार ज्‍वाइन कर लिया है. बताया जा रहा है कि रांची में एनई रहे अंकित शुक्‍ला की गुड बुक में रहे इन लोगों को लगातार प्रताडि़त किया जा रहा था, जिसके चलते इन लोगों ने अखबार को अलविदा कह दिया.


AddThis
Comments (7)Add Comment
...
written by राष्ट्रीय मुख्यधारा (हिन्दी दैनिक), December 17, 2013
सभी मीडिया मित्रों को सूचित करते हुए अपार हर्ष हो राहा है कि 1995 के बाद पहली बार बोकारो से "राष्ट्रीय मुख्यधारा" नाम से एक हिन्दी दैनिक समाचार पत्र आरंभ हो रहा है। 30-12-2013 को इसे लोकर्पित किया जाएगा. इसके प्रकाशक-संपादक पूर्णन्दु पुष्पेश हैं तथा प्रधान संपादक कमलेश कमल हैं। हमें आप जैसे और अधिक सहयोगियों कि आवश्यक्ता है।
...
written by राष्ट्रीय मुख्यधारा (हिन्दी दैनिक), December 17, 2013
सभी मीडिया मित्रों को सूचित करते हुए अपार हर्ष हो राहा है कि 1995 के बाद पहली बार बोकारो से "राष्ट्रीय मुख्यधारा" नाम से एक हिन्दी दैनिक समाचार पत्र आरंभ हो रहा है। 30-12-2013 को इसे लोकर्पित किया जाएगा. इसके प्रकाशक-संपादक पूर्णन्दु पुष्पेश हैं तथा प्रधान संपादक कमलेश कमल हैं। हमें आप जैसे और अधिक सहयोगियों कि आवश्यक्ता है।
...
written by राष्ट्रीय मुख्यधारा (हिन्दी दैनिक), December 17, 2013
सभी मीडिया मित्रों को सूचित करते हुए अपार हर्ष हो राहा है कि 1995 के बाद पहली बार बोकारो से "राष्ट्रीय मुख्यधारा" नाम से एक हिन्दी दैनिक समाचार पत्र आरंभ हो रहा है। 30-12-2013 को इसे लोकर्पित किया जाएगा. इसके प्रकाशक-संपादक पूर्णन्दु पुष्पेश हैं तथा प्रधान संपादक कमलेश कमल हैं। हमें आप जैसे और अधिक सहयोगियों कि आवश्यक्ता है।
...
written by Deepak, December 11, 2011
7 के बाद 8 नंबर पर छोड़ने वाले स्टाफ ब्रजेश पण्डे है जो इन दिनों भास्कर छोड़ कर सकून की जिन्दगी युपी के अपने घर में बिता रहे हैं. अभी कुछ और लोगों के छोड़ कर जाने की गुप्त सुचना है.
...
written by Kumar Madhukar, November 03, 2011
दैनिक भास्कर को रांची हेड ओम गुड़ से नमस्कार कर लेना चाहिए. नंबर one घटिया है. मैं इसे बहुत अच्छा से जानता हूँ. तभी अख़बार का भला होगा.
कुमार मधुकर
...
written by Akhilesh, October 19, 2011
इस खबर मे कुछ संशोधन कर लें। डीबी स्‍टार के दीपक वर्मा का नाम दीपक शर्मा है। उनके बारे में जो मेरी जानकारी है, उन्‍होंने किसी स्‍थानीय अखबार में ज्‍वाइन तो नहीं किया है लेकिन उन्‍होंने अपने शुभचिंतकों को यह कह कर कहीं बाहर निकल गए हैं कि वे बॉलीवुड में स्क्रिप्‍ट राइटर के लिए जा रह हैं। सत्‍यता राम जाने।
...
written by Rajeev nigam, October 19, 2011
भास्कर धनबाद से चार नहीं सात लोगों ने इस्तीफा दिया है. विकास शुक्ल अंकित शुक्ल के करीबी थे ये तो सही है, लेकिन ओम गौर से परेशां होकर इस्तीफा नहीं दिया है. विकास की संपादक बसंत झा से नहीं पटती थी. बसंत ने यहाँ सिर्फ वसूली करने वालों को तवज्जो दे राखी थी. ख़बरों के नाम पर वसूली धनबाद ऑफिस का कलचर बन गया था. विकास के जाने के बाद यहाँ से अनजनी सक्सेना, दीपक शर्मा, सत्येन्द्र कुमार, मनीष शर्मा ने भी संसथान को बाय किया है. अभी यहाँ से और विकेट गिरने वाले हैं,

Write comment

busy