आमरण अनशन पर बैठे एमसीआरसी जामिया के छात्रों की कुछ तस्वीरें

E-mail Print PDF

एमसीआरसी जामिया में एमए मास कॉम के 14 छात्रों को फाइनल प्रोजेक्ट बनाने और परीक्षा देने से रोक दिया गया है. जामिया प्रशासन ने इनसे कहा है कि हाजिरी पर्याप्त नहीं है. छात्रों का कहना है कि उनकी हाजिरी 70 प्रतिशत या उसके करीब है. पर एमसीआरसी प्रशासन का कहना है कि 75 प्रतिशत से कम हाजिरी वालों को परीक्षा नहीं देने देंगे. इस प्रकार 14 छात्र-छात्राओं का भविष्य खतरे में है. ये लोग अपनी गैरहाजिरी को लेकर मेडिकल सर्टिफिकेट देने को तैयार हैं पर प्रशासन सर्टिफिकेट्स को जाली बता रहा है.

इस तानाशाही के खिलाफ छात्रों ने जंतर मंतर पर धरना दिया, कोर्ट में केस फाइल किया. पर बात बनी नहीं. अब ये न्याय के लिए और अपने करियर को बचाने के लिए आमरण अनशन पर हैं. पेश है अनशन की कुछ तस्वीरें. आप सभी से अनुरोध है कि इन छात्रों के आंदोलन को सपोर्ट करें और इन्हें न्याय दिलाएं.


AddThis