पत्रकारिता के नाम पर पीपुल्‍स समाचार ने की डकैती!

E-mail Print PDF

सर पीपुल्‍स समाचार, इंदौर ने नीमच में ब्‍यूरो सेंटर खोला था. एजेंसी और विज्ञापन एजेंसी के तीन लाख रुपये सिक्‍युरिटी के रूप में जमा कराया गया था. स्‍टाफ में छह लोगों की भर्ती की गई थी. आठ माह तक पेपर चला उसके बाद 8 अप्रैल से पेपर बंद हो गया. स्‍टाफ को वेतन नहीं दिया गया, ना फोन और लाइट का बिल चुकाया गया.

यहां तक की चार माह का आफिस का किराया भी नहीं दिया गया. एजेंसी और विज्ञापन एजेंसी का जमा सिक्‍युरिटी का पैसा भी लौटाने से इनकार कर दिया गया. पत्रकारिता में डकैती की यह अनोखी वारदात है. आप ही राय दें हम क्‍या करें.

भूपेंद्र गौरा (बाबा)

This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it


AddThis